-->

विश्व फार्मासिस्ट दिवस 2020: कब और क्यों मनाया जाता है Pharmacist Day? जानिए इतिहास, महत्व और Theme

    Advertisement

    विश्व फार्मासिस्ट दिवस 2020: World Pharmacist Day कब, क्यों और कैसें मनाया जाता है? History, Importance & Theme

    वर्ल्‍ड फार्मासिस्ट डे २०२०: आज पूरी दुनिया में विश्व फार्मासिस्ट दिवस (World Pharmacist day) सेलिब्रेट किया जा रहा है। यह दिन दुनिया भर के फार्मासिस्ट्स को समर्पित होता है।

    हमारे स्वस्थ रहने और खुशहाल जीवन जीने में डॉक्टर्स के साथ-साथ Pharmacists का भी बड़ा रोल होता है फार्मासिस्ट को केमिस्ट भी कहा जाता है यह एक ऐसा व्यक्ति होता है जिसे दवाइयों के बारे में संपूर्ण जानकारी होती है।

    आज दुनियाभर में उन्ही फार्मासिस्टों को समर्पित यह अंतर्राष्ट्रीय या विश्व फार्मासिस्ट दिवस (Word Pharmacist Day 2020) मनाया जा रहा है। यह दिवस मना कर हम उन सभी फार्मासिस्टों को यह सन्देश देते हैं कि वह हमारे लिए कितने जरूरी हैं।

    World Pharmacist Day 25 September 2020
    World Pharmacist Day 25 September 2020

    आइए अब वर्ल्ड फार्मासिस्ट डे क्यों, कब और कैसे मनाया जाता है? तथा इस साल World Pharmacist Day 2020 की Theme के बारे में जानते हैं। और उनका हमारे जीवन में क्या महत्व (Importance) है इसे भी समझने का प्रयास करते है।


    World Pharmacist Day Information in Hindi

    विश्व फार्मासिस्ट दिवस के बारे में जानकारी:
    नाम: विश्व फार्मासिस्ट दिवस (World Pharmacist Day)
    शुरूआत: 2009
    तिथि: 25 सितंबर
    उद्देश्य: दुनियाभर के फार्मासिस्ट्स को सम्मान देने तथा उनके योगदानों के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए।
    थीम: 'वैश्विक स्वास्थ्य को बदलना' (Transforming global health)
    अगली बार: 25 सितम्बर 2021

    वर्ल्ड फार्मासिस्ट ड़े कब और क्‍यों मनाते हैं?

    2009 से ही प्रतिवर्ष 25 सितंबर को स्‍वास्‍थ्‍य क्षेत्र में महत्त्वपूर्ण भूमि‍का न‍िभाने वाले फार्मासिस्ट्स को समर्प‍ित यह दिन उन्हें सम्मान देने तथा उनके योगदानों को उजागर करने हेतु World Pharmacist Day के रूप में मनाया जाता है। इस साल हम 10वां विश्व फार्मासिस्ट दिवस मनाने जा रहे हैं।


    इसकी शुरुआत 11 वर्ष पहले साल 2009 में International Pharmaceutical Federation (FIP) द्वारा इस्तांबुल (तुर्की) में की गयी थी। वर्ष 1912 में २५ सेप्टेम्बर को FIP का गठन हुआ था।

    और 25 September की Date को ही International Pharmacist Day के लिये इसलिए चुना गया क्‍योंकि यह दिन अंतरराष्ट्रीय फार्मास्युटिकल फेडरेशन (FIP) का स्‍थापना दिवस था।

    तभी से हर वर्ष FIP के Members वि‍श्व फार्मासिस्ट दिवस में भाग लेकर फार्मासिस्ट की Activities के बारे में Awareness बढ़ाते हैं।


    यह भी पढ़ें: वेंटिलेटर क्या है? जानिए इसका उपयोग और कोरोना मरीजों के लिए इसकी ज़रूरत

    Pharmacist Day का महत्व (Importance)

    Health Department में Pharmacist एक महत्वपूर्ण किरदार निभाता है। स्वास्थ्य विभाग में सुधार करने तथा उन्हें Improve करने में ये अहम Role अदा करते हैं। आज हम स्वस्थ्य है इसके पीछे फार्मासिस्टों का भी अहम योगदान हैं।

    इसीलिए इनके इस Special contribution को विश्व भर में सम्मानित करने के लिए एक ख़ास दिन तो होना चाहिए। अभी हाल ही के उदाहरण की बात करें तो दुनिया भर के फार्मासिस्ट कोरोनावायरस/कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिए अथक प्रयासों में जुटे हुए हैं।



    जैसे ही आप फार्मासिस्ट या केमिस्ट का नाम सुनते हैं तो आपको किसी दूकान पर दवाई देने वाला व्यक्ति ध्यान में आता है। जो अमूमन खड़े ही दिखाई देते हैं और लंबे समय तक ऐसे ही काम करने में सक्षम होते हैं।

    उनके पास डॉक्टरों जितना बैठने का टाइम नहीं होता फार्मासिस्ट ना केवल दवाइयों के बारे में सलाह देते हैं बल्कि इसके साथ-साथ वे दवाइयां वितरित करने तथा टीकाकरण का काम भी करते हैं।

    साथ ही वे नई दवाओं का प्रशिक्षण, खोजें तथा रिसर्च भी करते हैं इसीलिए उन्हें दवा विशेषज्ञ (मेडिसिन एक्सपर्ट) भी माना जाता है। साथ ही कोई दवाई सुरक्षित और प्रभावकारी है या नहीं इसे सुनिश्चित करने का काम भी इन्हीं के कंधों पर होता है।

    इतना ही नही उन्हें हर तरह की दवाई के बारे में भी पता होना चाहिए जिसमें टेबलेट, कैप्सूल, ड्रॉप्स, इन्हीलर, लिक्विड और इंजेक्शन भी आते हैं। इसके साथ ही एक काबिल फार्मासिस्ट को यह भी पता होना चाहिए कि अलग-अलग दवाई एक दूसरे के साथ कैसे प्रतिक्रिया करती है।


    विश्व फार्मासिस्ट दिवस कैसे मनाया जाता है?

    इस अन्तर्राष्ट्रीय फार्मासिस्ट दिवस पर फार्मेसी काउंसिल ऑफ इंडिया (पीसीआई - Pharmacy Council of India) के लोग भी बढ़चढ़ कर हि‍स्‍सा लेते है। PCI के साथ-साथ देश के कई फार्मेसी कॉलेजों में भी वर्ल्‍ड फार्मासिस्ट डे धूम धाम से सेलिब्रेट किया जाता है।

    यदि आप वर्ल्ड फार्मासिस्ट डे मनाना चाहते हैं तो इसके लिए आप अपने स्थानीय फार्मासिस्ट (Chemist) को उनके द्वारा किए गए सभी कार्य के लिए धन्यवाद कर सकते है। साथ ही आप #WorldPharmacistDay के साथ सोशल मीडिया पर भी अपने इस खास दिन को साझा कर सकते हैं।


    यह भी पढ़ें: National Doctor's Day 2020: कब मनाया जाता है राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस

    World Pharmacist Day Theme 2020 In Hindi

    फार्मासिस्ट हमेशा लोगों के कल्याण लिए तत्पर रहते हैं। हर साल फार्मासिस्ट दिवस की एक खास थीम होती है। और हर साल यह Theme अंतरराष्ट्रीय फार्मास्युटिकल फेडरेशन तय करता है।

    इस बार World Pharmacist Day 2020 की Theme “Transforming global health” है इसे हिंदी में "वैश्विक स्वास्थ्य को बदलना" कहा जा सकता है। यह विषय यह बताने का मौका है कि फार्मासिस्ट विभिन्न स्वास्थ्य सेवाओं के माध्यम से स्वास्थ्य को कैसे बदल रहे हैं।

    World Pharmacist Day Theme 2019
    World Pharmacist Day Theme 2019

    पिछली साल 2019 पर वर्ल्ड फार्मासिस्ट डे की थीम “Safe and effective medicines for all” थी और हिन्दी में आप इसे "सभी के लिए सुरक्षित और प्रभावी दवाएं" कह सकते है।

    इस से पहले वर्ष 2018 की थीम "अध्ययन से हेल्थ केयर तक: आपका फार्मासिस्ट आपकी सेवा में तत्‍पर" थी।


    यह भी पढ़ें: National Dentist's Day 2020: राष्ट्रीय दंत चिकित्सक दिवस

    Pharmacist और Pharmacy से जुड़े कुछ प्रश्नोत्तर

    फार्मासिस्ट का मतलब क्या होता है?

    फार्मासिस्ट ऐसे व्यक्ति को कहा जाता है जिसे दवाइयों के विषय में सम्पूर्ण ज्ञान होता है इन्हें दवा विशेषज्ञ भी माना जाता है। फार्मासिस्ट बनने के लिए फार्मेसी क्षेत्र में डिग्री हासिल करनी होती है। जिसके लिए 6-8 साल कॉलेज में (डी.फार्मा, बी. फार्मा और एम.फार्मा आदि करने में) लगाने होते है।

    Pharmacist के कार्य:
    इसमें फार्मास्यूटिकल प्रोडक्ट बनाने, फार्मास्यूटिकल प्रोडक्शन के तरीके विकसित करने और क्वालिटी कंट्रोल जैसे कार्य आते हैं। फार्मासिस्ट ड्रग मैन्युफैक्चरर कंपनियों से जुड़े प्राइवेट या सरकारी संस्थानों, डिस्पेंसरी और मेडिकल स्टोर आदि में काम कर सकते हैं। डॉक्टरों द्वारा लिखी दवाओं की डिलीवरी का काम भी फार्मासिस्ट करते हैं फार्मासिस्ट मेडिकल रिप्रेजेंटेटिव के तौर पर भी कार्य कर सकते हैं।


    यह भी पढ़ें: Plasma Therapy in Hindi: जानिए क्या है प्लाज्मा थेरेपी, अब होगा कोरोना इलाज़

    सबसे प्रसिद्ध फार्मासिस्ट कौन है?

    प्रसिद्ध फार्मासिस्ट अलेक्जेंडर फ्लेमिंग (Alexander Flemming) ने 1928 में पेनिसिलिन की अपनी खोज से दुनिया में क्रांति ला दी थी। साथ ही लोकप्रिय पेय में से एक कोका-कोला की खोज प्रशिक्षित फार्मासिस्ट जॉन पेम्बर्टन (John Pemberton) ने की थी। इतना ही नहीं पेप्सी, काली मिर्च और अदरक अले जैसे कई अन्य अविष्कार फार्मासिस्टों की ही देन है।


    भारत में फार्मेसी का जनक किसे कहा जाता है?

    महादेव लाल श्रॉफ (Mahadeva Lal Schroff) को फार्मेसी के क्षेत्र में उनके योगदान के लिए भारतीय फार्मेसी का जनक माना जाता है। वह पहली बार बनारस हिंदू विश्वविद्यालय में फार्मेसी में 3 साल का पाठ्यक्रम पेश करने वालों में से थे।


    अन्तिम शब्द

    हमारे और आपके स्वस्थ जीवन का मूल-सूत्र Doctors के साथ-साथ Pharmacists भी है। इसिलिए हमें डॉक्टरों के साथ ही फार्मासिस्टों का भी सम्मान करना चाहिए और विश्व फार्मासिस्ट दिवस 2020 (World Pharmacist Day) को भी उत्साह और सम्मान के साथ मनाना चाहिए।

    यहाँ हमने Pharmacist और Pharmacy के बारें मे जानकारी देने की कोशिश की है। अगर आपको 25 सितंबर को मनाये जाने वाले इस वर्ल्ड फार्मासिस्ट डे की यह जानकारी अच्छी लगी तो इसे व्हाट्सएप और फेसबुक पर भी जरूर शेयर करें।

    The End
    NEXT ARTICLE Next Post
    PREVIOUS ARTICLE Previous Post
    -->
    NEXT ARTICLE Next Post
    PREVIOUS ARTICLE Previous Post
     

    About Writer