-->

One Nation One Ration Card: आधार कार्ड से ऐसे करें Link, होंगे कई फायदे

    Advertisement

    One Nation One Ration Card Scheme 2020: Aadhaar Card Linking Process Information in Hindi

    एक राष्ट्र एक राशनकार्ड योजना २०२०: क्या आप एक कामगार प्रवासी मजदूर है? क्या आपने एक से अधिक राशनकार्ड बनवाये हुए है? क्या आप किसी दुसरे के राशन कार्ड पर राशन लेते है? क्या आप एक सरकारी राशन की दुकान के मालिक है और राशन की चोरी करते है या आप एक राशनकार्ड धारी है और अपने Ration Card को Aadhaar से Link करना चाहते है तो आपको One Nation One Ration Card Yojana के बारे में जरूर जान लेना चाहिए।

    कोरोनावायरस के दौरान लगे Lockdown के समय हम सभी ने भारत के अलग-अलग राज्यों में रहने वाले प्रवासी मजदूरों और कामगारों को अपने राज्य वापस जाते देखा।

    इस पलायन का बड़ा कारण ज्यादातर लोगों को राशन और खाने-पीने की समस्या थी, क्योंकि जिस राज्य में वे काम कर रहे थे वहाँ उनका राशनकार्ड नहीं बना था। और उन्हें राशन और सरकार द्वारा दी जाने वाली राहत सामग्री का फायदा नहीं मिल रहा था।

    One Nation One Ration Card Scheme in Hindi
    One Nation One Ration Card Scheme in Hindi

    ऐसे में सरकार द्वारा 1 जून 2020 को One Nation One Ration Card Scheme यानी एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना का शुभारंभ किया गया है।

    आज के इस लेख में हम आपको वन नेशन वन राशन कार्ड योजना क्या है? इसके फायदे या उद्देश्य एवं इस योजना का लाभ कैसे उठाएं और अपने राशन कार्ड को आधार कार्ड से कैसे लिंक करें इसके बारे में विस्तार से बताने जा रहे हैं।


    One Nation One Ration Card योजना क्या है?

    देशभर में वन नेशन वन राशन कार्ड की व्यवस्था 1 जून 2020 से ही लागू कर दी गई है जिसके तहत भारत के सभी नागरिकों का एक ही राशन कार्ड होगा और राशन कार्ड धारक देश के किसी भी राज्य से और किसी भी सरकारी राशन की दुकान से सस्ता अनाज खरीद सकेंगे।

    1 जून 2020 को केंद्र सरकार द्वारा देशभर के 20 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में One Nation One Ration Card Scheme यानी एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना की शुरुआत की जा चुकी है जिसे राशन कार्ड पोर्टेबिलिटी सेवा भी कहा जा रहा है।

    ऐसे में अब वन नेशन वन राशन कार्ड व्यवस्था के आ जाने से सभी लोगों को फायदा होगा और यह स्कीम देश के लगभग 20 राज्यों में लागू होने के बाद जल्द ही अन्य राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों भी लागू की जाएगी।


    क्यों लागू की गयी One Nation One Ration Card Yojana?

    इससे पहले देश के कई लोगों ने एक से ज्यादा राशन कार्ड बनवाए हुए थे और उन सभी जगहों से राशन लेते थे मान लीजिए कोई व्यक्ति उत्तर प्रदेश में रहता है और वह काम करने मध्य प्रदेश जाता है तो उसका उत्तर प्रदेश का तो राशन कार्ड बना ही होता है साथ ही वह मध्यप्रदेश में भी जाकर राशन कार्ड बनवा लेता है।

    और मध्य प्रदेश में वह खुद राशन लेता है और गांव में उसका परिवार और अन्य लोग राशन लेते हैं।

    और कई लोगों ने तो राशन कार्ड तो बनवाया हुआ है लेकिन उनका राशन वह खुद नहीं देख लेते उन्होंने अपना राशन कार्ड अपने किसी सगे संबंधी को दे दिया है और वही उनका राशन उठाते हैं।

    इन सभी चीजों से सरकार को आर्थिक नुकसान हो रहा है जिसके रोकथाम के लिए सरकार ने इस योजना को लागू करने का फैसला लिया है साथ ही ऐसी योजना से सभी लोगों तक कम कीमत में राशन पहुंचाना और आसान होगा।

    मंत्रालय की माने तो अब तक देश के कुल 23.5 करोड़ राशन कार्ड में से केवल 90% राशन कार्ड ही आधार से लिंक हैं।

    इस तरह से आप वन नेशन वन राशन कार्ड योजना का लाभ उठा सकते हैं और जल्द से जल्द अपने राशन कार्ड को आधार कार्ड से लिंक करके आगे होने वाली दिक्कतों से छुटकारा पा सकते हैं।

    Ration Wheat and Rice
    Ration: Wheat and Rice

    One Nation One Ration Card Scheme के Benefits

    • ग्राहक राशन कार्ड से भारत की किसी भी राशन की दुकान से राशन ले सकेंगे। जिससे पलायन करने वाले लोगों और प्रवासी मजदूरों को फायदा होगा और वह जहां काम करते हैं वहां से और अपने घर आने पर गाँव से भी राशन ले सकेंगे।

    • जिन लोगों ने एक से अधिक राशन कार्ड बनवाए हुए हैं वे अब आगे नकली दस्तावेजों के आधार पर राशन कार्ड नहीं बनवा सकेंगे।

    • आने वाले समय में राशन घर के सदस्य (जिनका नाम राशन कार्ड में है) वही राशन ले सकेंगे। इससे किसी और के राशन कार्ड पर कोई और राशन नहीं ले पाएगा।

    • दुकानदार राशन की चोरी नहीं कर सकेंगे, बायोमेट्रिक की मदद से राशन वितरण की शुरुआत होगी जिससे बचा हुआ राशन सरकार के पास सुरक्षित रहेगा।

    • कई लोगों ने गरीबी रेखा के नाम पर नकली राशन कार्ड बनाए हुए हैं और सब्सिडी का फायदा उठा रहे हैं। ऐसे में जो गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले परिवार हैं उन्हें फायदा होगा और अयोग्य लोगों को सब्सिडी का फायदा नहीं मिलेगा।

    • राशन कार्ड आधार से जोड़े जाने के बाद राशन कार्ड को लेकर होने वाली धोखाधड़ी की गतिविधियों पर भी लगाम लगेगी।

    Last Date for Linking Aadhaar with Ration Card

    One Nation One Ration Card Scheme का लाभ पाने के लिए देश के सभी राशन कार्ड धारियों को अपने राशन कार्ड को आधार कार्ड से लिंक कराना होगा। यदि आपका Aadhaar Number Link नहीं है, तो आधार को राशन कार्ड से जोड़ने की आखिरी तारीख को बढ़ाकर 30 सितंबर 2020 कर दिया गया है।

    यदि आपने अपना Ration Card अब तक Aadhaar से Link नहीं कराया है तो Deadline से पहले अपना राशन कार्ड अपने आधार कार्ड से जोड़ सकते हैं। जिसके लिए हम यहां कुछ आसान स्टेप्स बताने जा रहे हैं जिसकी मदद से आप Aadhaar Ration Card Seeding करा सकेंगे।


    राशन कार्ड को आधार से लिंक नहीं कराने पर क्या होगा?

    केंद्रीय खाद्य मंत्रालय के द्वारा यह कहा गया है कि अगर कार्डधारी राशन कार्ड को आधार नंबर से लिंक नहीं करवा पाते तो भी उन्हें राशन मिलता रहेगा। साथ ही लिंकिंग प्रोसेस में देरी होने पर भी राशन कार्ड धारकों को राशन दिया जाता रहेगा और किसी का भी राशन कार्ड आधार नंबर से नहीं जुड़े होने के कारण रद्द भी नहीं होगा।

    हालांकि आगे इसे Link कराना आनिवार्य कर दिया जाएगा और बाद में आपको परेशानी का सामना भी करना पड़ सकता है इसीलिए आप आज ही इसे लिंक करा लें।


    यह भी पढ़े: इंडेन गैस सिलेंडर Book करने के 5 आसान तरीके | आज ही ऑर्डर करें

    Documents Required for Linking

    • मुखिया के आधार कार्ड की फोटो कॉपी,
    • राशन कार्ड की फोटो कॉपी,
    • परिवार के सभी सदस्यों के आधार कार्ड की फोटो कॉपी,
    • परिवार के मुखिया की एक पासपोर्ट साइज फोटो,
    • और बैंक की पासबुक की फोटोकॉपी।

    Link Aadhaar to Ration Card Online Process (Not Working)

    • सबसे पहले आप आधार की वेबसाइट की वेबसाइट www.uidai.gov.in पर जाएं।

    • यहां Start Now के बटन पर क्लिक करें।

    • इसके बाद यहां अपना पूरा पता और दिए गए विकल्पों में से राशन कार्ड के विकल्प को चुनें।

    • और अब यहां अपना राशन कार्ड नंबर, आधार नंबर, ईमेल एड्रेस एवं मोबाइल नंबर एंटर करें।

    • इसके बाद आपके आधार से रजिस्टर्ड मोबाइल फोन पर एक ओटीपी आएगा।

    • इस ओटीपी को दर्ज करें और वेरिफ़िकेशन प्रोसेस को पूरा करें।

    • आपका मोबाइल नंबर वेरीफाई हो जाने के बाद आपका राशन कार्ड आपके आधार कार्ड से सफलतापूर्वक लिंक हो जाएगा।

    ऊपर बताए गए Online Aadhaar Seeding to Ration Card का यह तरीका बिल्कुल गलत है Internet पर सभी जगहों पर यही तरीका बताया जा रहा है।

    लेकिन जब आप आधार कार्ड की वेबसाइट पर जाएंगे तो वहां आपको ऐसा कोई भी ऑप्शन नहीं मिलता है।

    साथ ही आधार कार्ड की ऑफिशियल वेबसाइट भी यही कहता है कि आपको राशन कार्ड से आधार को अपडेट करने के लिए पीडीएस सेंटर पर ही जाना होगा।

    आइए अब आपको Ration Card को Aadhaar Number से Link करने का सही तरीका क्या है? बताते है।


    यह भी पढ़े: Pan-Aadhar Link: घर बैठे कराएं पैन-आधार लिंक, ये है लास्ट ड़ेट ऐसे चेक करें स्टेटस

    राशन कार्ड को आधार से कैसे लिंक करें?

    Link Aadhaar to Ration Card
    Link Aadhaar to Ration Card

    • अपने नजदीकी पब्लिक डिसटीब्यूशन सिस्टम या पीडीएफ सेंटर अथवा राशन की दुकान पर जाएं।

    • आधार को राशन कार्ड से लिंक कराने जाते समय घर के मुखिया और परिवार के सभी सदस्यों के आधार कार्ड की फोटो कॉपी एवं घर के मुखिया की एक पासपोर्ट साइज फोटो और राशन कार्ड साथ रखें।

    • अगर आपका बैंक अकाउंट आपके आधार से जुड़ा नहीं है तो आप अपने साथ पासबुक की भी एक फोटो कॉपी लेकर जाएं।

    • और इन सभी डाक्यूमेंट्स को PDS Shop पर एक साथ अपने Aadhaar Number के साथ जमा करवा दें।

    • हो सकता है अधिकारी आधार ऑथेंटिकेशन या सत्यापन के लिए आपकी उंगलियों के निशान (बायोमेट्रिक डिटेल्स) को भी कैप्चर करें।

    • जब आपका बायोमेट्रिक सत्यापन हो जाएगा तब सभी दस्तावेजों के जमा करने के बाद आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर इससे जुड़ा एक मैसेज आएगा।

    • इसके कुछ दिनों बाद आपका राशन कार्ड आपके आधार कार्ड से Link हो जाएगा और इसके बाद आपको फिर से SMS के जरिए ही Process पूरा होने की जानकारी भी दे दी जाएगी।

    यह भी पढ़े: Jio Petrol Pump के लिए ऐसे करना है Apply, कमाई होगी लाखों में? क्लिक कर जानिए खर्चा

    भारत के कौन से राज्य इस योजना के अंतर्गत आते है?

    वन नेशन वन राशन कार्ड योजना के तहत आंध्र प्रदेश, गुजरात, तेलंगाना, महाराष्ट्र, राजस्थान, हरियाणा, केरल, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, झारखंड, गोवा, बिहार, त्रिपुरा, उत्तर प्रदेश हिमाचल प्रदेश, पंजाब और दमन एवं दीव जैसे राज्य समेत देश भर के 20 से अधिक राज्य और केंद्र शासित प्रदेश जोड़े जा चुके हैं।

    और जल्द ही बाकी राज्यों को भी राशन कार्ड पोर्टेबिलिटी सेवा से जोड़ा जाएगा।


    एक राष्ट्र एक राशन कार्ड स्कीम के लिए आवेदन कैसे करें?

    एक देश एक राशन कार्ड योजना का लाभ उठाने के लिए आपको किसी भी प्रकार के ऑनलाइन या ऑफलाइन आवेदन करने की कोई आवश्यकता नहीं है। परन्तु अगर आपने अपना आधार नंबर अपने राशन कार्ड से लिंक नहीं किया है तो इसे लिंक करा ले।


    यह भी पढ़े: प्रधानमंत्री मोदी फ्री लैपटॉप वितरण योजना

    एक देश एक राशन कार्ड योजना भारत में कब तक लागू किए जाने का लक्ष्य है?

    रिपोर्ट के मुताबिक भारत में यह योजना 30 जून 2030 तक पूर्ण रूप से देश के सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में लागू किए जाने का लक्ष्य रखा गया है, और इसे 20 जून 2020 से भारत के कई राज्यों में शुरू भी कर दिया गया है।

    The End
    NEXT ARTICLE Next Post
    PREVIOUS ARTICLE Previous Post
    -->
    NEXT ARTICLE Next Post
    PREVIOUS ARTICLE Previous Post
     

    About Writer