-->

e-RUPI क्या है? कैसें होता है वाउचर रिडीम और क्या है इसके फायदे

E-RUPI डिजिटल भुगतान का एक नया तरीका है जिसे संगठनों या सरकार द्वारा लाभार्थी को कल्याणकारी योजनाओं का लाभ देने के लिए एक कैशलेस और संपर्क रहित साधन क आइये इसके बारें में विस्तार से जानते है...

    e-RUPI क्या है? कैसें काम करता है? इसके फायदे और इस्तेमाल (Redeem UPI eRUPI Prepaid e-Voucher)

    e Rupi Kya Hai: हमेशा से ही डिजिटल पहल की हिमायत करने वाले भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने एक बार फिर से एक नए डिजिटल पेमेंट सलूशन E-Rupi (ई-रूपी) को 2 अगस्त 2021 को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए लॉन्च कर दिया है। यह एक प्रीपेड इलेक्ट्रॉनिक वाउचर (Prepaid E-Voucher) है जो डिजिटल भुगतान के लिए इंडिया का एक कैशलेस और संपर्क रहित साधन है।

    कई सालों से, सरकार और लाभार्थी (beneficiaries) के बीच सीमित Touch Points के साथ, लक्षित और लीक-प्रूफ तरीके से लाभ को इच्छित लाभार्थियों तक पहुंचाने के लिए कई कार्यक्रम शुरू किए गए है। Prepaid e-Voucher की परिकल्पना सुशासन के इस दृष्टिकोण को आगे बढ़ाती है।

    eRUPI का कोई ऐप लॉन्च नहीं किया जाएगा, यह एक e-वाउचर आधारित पेमेंट सिस्टम है जिसे रिडीम करने के लिए किसी Mobile App की आवश्यकता नहीं होती।
    E-Rupi kya hai
    E-Rupi kya hai

    आइए आपको ई-रूपी क्या है? (What is E RUPI in Hindi) यह कैसें काम करता है (How it Works) तथा इसके उपयोग (Use of UPI eRupi) के बारें में विस्तार से बताते है।


    E-Rupi क्या है? What is eRUPI in Hindi

    E-RUPI डिजिटल भुगतान का एक नया तरीका है जिसे संगठनों या सरकार द्वारा लाभार्थी को कल्याणकारी योजनाओं का लाभ देने के लिए एक कैशलेस और संपर्क रहित साधन के तौर पर NCPI (नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया) द्वारा विकसित किया गया है।

    मूल रूप से ई-रुपी एक e-वाउचर आधारित पेमेंट सिस्टम है जिसे UPI (यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस) प्लेटफॉर्म पर बनाया गया है परन्तु इसे रिडीम करने के लिए किसी मोबाइल ऐप की आवश्यकता नहीं होती।


    erupi Prepaid e-Voucher

    ई-रुपी एक QR कोड या SMS स्ट्रिंग-आधारित प्रीपेड e-वाउचर है जिसे लाभार्थी की पहचान सत्यापित किए जाने के बाद सीधे उसके मोबाइल पर भेजा जाता है। इस बाधा-रहित वन-टाइम पेमेंट मैकेनिज्म की मदद से उपयोगकर्ता इस ई-वाउचर को डिजिटल पेमेंट ऐप, कार्ड या इंटरनेट बैंकिंग को एक्सेस किए बिना Redeem कर सकता है।

    यह कल्याणकारी सेवाओं की लीक-प्रूफ डिलीवरी सुनिश्चित करने की दिशा में एक क्रांतिकारी कदम साबित हो सकता है।


    कैसे काम करता है ई-रुपी?

    ई-आरयूपीआई (e-RUPI) का काम बिना किसी फिजिकल इंटरफेस के डिजिटल तरीके से लाभार्थियों (beneficiaries) और सर्विस प्रदान करने वालों के साथ सर्विस के प्रायोजकों को कनेक्ट करना है। साथ ही इसका काम यह सुनिश्चित करना भी है कि लेन-देन (Transaction) पूरा होने के बाद ही सेवा प्रदान करने वाले को पेमेंट किया जाए।

    ई-रूपी का Prepaid होना ही सर्विस प्रोवाइडर को बिना किसी मध्यस्थ के समय पर भुगतान का भरोसा देता है।


    ई रूपी के फायदे (Benifits of UPI eRUPI Prepaid e-Voucher)

    • वाउचर के माध्यम से पूरी लेन-देन प्रक्रिया अपेक्षाकृत तेज़ और साथ ही विश्वसनीय है, क्योंकि वाउचर में आवश्यक राशि पहले से ही संग्रहीत है।

    • इस e-Voucher को रिडीम करने के दौरान लाभार्थी को अपनी व्यक्तिगत जानकरी साझा करने की जरूरत नहीं होती है जिससे गोपनीयता बनी रहती है।

    • वाउचर रिडेम्पशन को जारीकर्ता द्वारा ट्रैक किया जा सकता है।

    • आपका Voucher, Varification Code के माध्यम से अधिकृत और सुरक्षित होता है।

    • वाउचर को कुछ आसन Steps का पालन करके भुनाया जा सकता है तथा प्री-ब्लॉकिंग अमाउंट के कारण पेमेंट अस्वीकृत होने की कम सम्भवना है।

    • वाउचर को भुनाने के लिए किसी डिजिटल पेमेंट ऐप या बैंक खाता होने की आवश्यकता नहीं है।

    • कॉर्पोरेट अपने कर्मचारियों की भलाई के लिए इसका इस्तेमाल कर सकते हैं


    ई-रुपी डिजिटल वाउचर का इस्तेमाल कहां हो सकता है?

    • इसका उपयोग आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना जैसी योजनाओं के तहत दवाएं और निदान,

    • उर्वरक सब्सिडी आदि जैसी स्कीमों,

    • टीबी उन्मूलन कार्यक्रमों तथा

    • मातृ एवं बाल कल्याण योजनाओं के तहत दवाएं और पोषण संबंधी सहायता प्रदान करने वाली योजनाओं के तहत सेवाएं देने के लिए भी किया जा सकता है।

    • इसके आलावा प्राइवेट सेक्टर में भी अपने कर्मचारी वेलफेयर और कॉर्पोरेट सोशल रेस्पोंस्बिलिटी कार्यक्रमों के हिस्से के रूप में इन डिजिटल वाउचर का लाभ उठा सकते हैं।

    Banks live with e-rupi? बैंक जो ई-रुपये के साथ हैं?

    फिलहाल भारत के 11 बैंक e-RUPI को सपोर्ट कर रहे हैं। इनमें से कुछ Banks e-Voucher तो जारी करते है परन्तु उन्हें अभी स्वीकार नहीं करते।

    बैंक जो पूरी तरह से ई-रूपी का समर्थन कर रहे हैं: भारतीय स्टेट बैंक, ICICI बैंक, HDFC बैंक, पंजाब नेशनल बैंक, एक्सिस बैंक और बैंक ऑफ बड़ौदा।

    बैंक जो केवल ई-रूपी कूपन जारी करेंगे: केनरा बैंक, इंडसइंड बैंक, इंडियन बैंक, कोटक बैंक और यूनियन बैंक ऑफ इंडिया।


    Banks Support E-RUPI:
    क्रम सं.बैंक का नामe-RUPI जारीकर्ताe-RUPI अधिग्रहणप्राप्त कर्ता ऐप/कम्पनी
    1ऐक्सिस बैंकहाँहाँभारत पे
    2बैंक ऑफ बड़ौदाहाँहाँभीम बड़ौदा मर्चेंट पे
    3केनरा बैंकहाँनहींN/A
    4HDFC बैंकहाँहाँHDFC बिजनेस ऐप
    5ICICI बैंकहाँहाँभारत पे और पाइनलैब्स
    6Indusind बैंकहाँनहींNA
    7इंडियन बैंकहाँनहींNA
    8कोटक बैंकहाँनहींNA
    9पंजाब नेशनल बैंकहाँहाँPNB मर्चेंट पे
    10भारतीय स्टेट बैंकहाँहाँYONO SBI मर्चेंट
    11यूनियन बैंक ऑफ इंडियाहाँनहींNA
    follow haxitrick on google news
    NEXT ARTICLE Next Post
    PREVIOUS ARTICLE Previous Post
    -->
    NEXT ARTICLE Next Post
    PREVIOUS ARTICLE Previous Post