-->

DogeCoin: डोजकॉइन क्या है? कैसें ख़रीदे? कीमत, भविष्य और इसके मालिक के बारे में

Dogecoin ब्लॉकचेन तकनीक पर आधारित एक ओपन सोर्स पीयर-टू-पीयर डिजिटल क्रिप्टो करेंसी है जिसकी शुरुआत वर्ष 2013 में बिली मार्कस और जैक्सन पाल्मर ने की थी आइये इसके बारें में विस्तार से जानते है...

    DogeCoin Cryptocurrency: डोजकॉइन क्या है? कैसें ख़रीदे? Price, Founder & Future

    DogeCoin Cryptocurrency in Hindi: बिटकॉइन भारत और दुनिया भर में सबसे पॉपुलर क्रिप्टोकरेंसी है लेकिन बिटकॉइन के अलावा मार्केट में एथेरियम, रेड कोइन, सियाकॉइन, मुनोरो आदि जैसी और भी डिजिटल करेंसी धीरे-धीरे पॉपुलर हो रही है। इसी बीच Meme-based cryptocurrency Dogecoin (डोजकोइन) ने दुनिया भर में लोगों का ध्यान अपनी ओर आकर्षित किया है पिछले दिनों डोजकॉइन काफी ट्रेंडिंग में था और इसकी वैल्यू में भी काफी तेजी दर्ज की गई थी।

    मजाक के तौर पर शुरू हुई डॉगीकॉइन क्रिप्टोकरेंसी क्या है? इसका मालिक कौन है तथा डोजकॉइन कैसे खरीदें इसके बारे में हम आज आपको पूरी जानकारी देने जा रहे हैं। परन्तु इसके बारे में जानने से पहले आपको Cryptocurrency क्या है? यह कैसें काम करता है? यह सब जरूर जान लेना चाहिए।

    Dogecoin kya hai price and Future
    Dogecoin kya hai price and Future

    Dogecoin क्या है?

    Dogecoin ब्लॉकचेन तकनीक पर आधारित एक ओपन सोर्स पीयर-टू-पीयर डिजिटल क्रिप्टो करेंसी है जिसकी शुरुआत वर्ष 2013 में IBM कंपनी के सॉफ्टवेयर इंजीनियर बिली मार्कस और Adobe के प्रोडक्ट मेनेजर जैक्सन पाल्मर ने मजाक के तौर पर की थी तथा यह क्रिप्टो उस समय काफी लोकप्रिय रहे जापानी कुत्ते की एक प्रजाति 'शीबा इनु' के Meme पर आधारित थी।

    बिटकॉइन के पॉपुलर होने के बाद मार्केट में कई तरह की क्रिप्टोकरंसी लांच की जाने लगी इसी बीच Dogecoin के संस्थापकों ने सोचा क्यों ना हम भी अपनी खुद की क्रिप्टोकरंसी लॉन्च करें ऐसे में उन्होंने उस समय के मशहूर मीम को क्रिप्टोकरंसी के तौर पर लांच कर दिया।

    डोज कॉइन का इस्तमाल पहले Reddit पर टिप देने के लिए किया जाता था धीरे-धीरे यह पॉपुलर होता गया और Reddit पर इनकी अच्छी खासी कम्युनिटी बन गई।


    Dogecoin का मालिक कौन है? (Founder & Owner)

    Dogecoin के मालिक Billy Markus और Jackson Palmer नामक दो इंजीनियर है जिन्होंने मिलकर वर्ष 2013 में डोगेकोईन का अविष्कार किया था। बताया जाता है कि Jackson Palmer ने BitCoin पर व्यंग्य करते हुए एक ट्विट किया जिसमें उन्होंने लिखा 'Investing in Dogecoin, pretty sure it's the next big thing.'

    यह ट्विट काफी तेजी से वायरल हुआ और लोगों ने Dogecoin में इन्वेस्ट करने की बात की उस समय तक इस तरह की कोई भी Cryptocurrency नहीं बनी थी। इस Tweet की लोकप्रियता को देखते हुए उन्होंने इस पर एक वेबसाइट बना डाली जिसके बाद Reddit पर यह काफी पोपुलर हो गया।

    जिसे देख Billy Markus ने Jackson Palmer से सच में इस Dogecoin को लॉन्च करने की बात की। और फिर 2013 के अंत में यह Cryptocurrency Launch हुई और इसकी लॉन्चिंग के 72 घंटे में ही इसमें 300% का उछाल दर्ज किया गया।

    Dogecoin ka malik founder

    डॉगकॉइन की कीमत (Price) क्या है? इसकी वैल्यू क्यों बढ़ रही है?

    डॉगकॉइन Meme पर आधारित क्रिप्टो करेंसी है मीम की लोकप्रियता बढ़ने के साथ ही इस क्रिप्टोकरेंसी की लोकप्रियता में भी उछाल आया, साथ ही इस क्रिप्टो करेंसी को एलोन मस्क, स्नूप डॉग और रैपर मीक मिल जैसे लोकप्रिय सेलिब्रिटीयों का सपोर्ट मिला। इसके आलावा बाद में इसे बड़ी डिजिटल करेंसी प्लेटफॉर्म्स पर भी लिस्ट कर दिया गया।

    2021 में इस मीम करेंसी (Meme Currency) को Tesla और SpaceX के सीईओ अरबपति Elon Musk ने अपने ट्विट की बदौलत यहाँ तक पहुंचा दिया है।


    मई 2021 के पहले हफ्ते में डॉजकॉइन की कीमत $0.74 (भारत में लगभग 54.06 रुपये) के अपने ऑल टाइम हाई पर पहुंच गयी थी। फिलहाल Dogecoin के प्रति सिक्के की वैल्यू 0.23 डॉलर (लगभग 17 रुपए) है तथा इसका मार्केट कैप फिलहाल 31 बिलियन डॉलर से अधिक है।

    ऐसा माना जा रहा है कि दुनिया भर में तकरीबन 130 अरब से ज्यादा डॉजकॉइन सरकुलेशन में हैं। इसका इस्तेमाल किसी भी आम क्रिप्टोकरेंसी की तरह ही लेन-देन और ट्रेडिंग करने के लिए किया जा सकता है।


    बिटकॉइन और डोजकॉइन में क्या अंतर है?

    • Dogecoin एक लिमिटलेस क्रिप्टो करेंसी है इसकी माइनिंग की कोई लिमिट नहीं है साथ ही हर साल इसमें करीब 5.9 बिलीयन कॉइन ऐड किए जाते हैं। वही बिटकॉइन माइनिंग की लिमिट 21 मिलियन सिक्के है।

    • बिटकॉइन माइनिंग में काफी ज्यादा ऊर्जा खपत होती है वहीं दूसरी ओर Dogecoin माइनिंग में कम ऊर्जा खपत होती है।

    • बिटकॉइन जहां sha256 इंक्रिप्शन टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करती है तो वही डोजकॉइन में पासवर्ड पर आधारित स्क्रिप्ट टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया जाता है।


    DogeCoin का भविष्य (Future) क्या है?

    Dogecoin या किसी भी Cryptocurrency का Future (भविष्य) क्या होगा यह कह पाना मुश्किल है लेकिन इस पर सभी की अपनी गणनाए व विचार हैं हालांकि इसे सपोर्ट करने वाले यह भविष्यवाणी कर रहे है की Dogecoin की वैल्यू इस साल के अंत तक $1 के बराबर पहुंच सकती है अब आगे क्या होगा यह देखना दिलचस्प होगा।

    हालांकि डॉगीकॉइन की कीमत में आए उछाल का श्रेय एलोन मस्क को जाता है उन्होंने इसे लेकर अब तक कई ट्वीट किए हैं जिससे इसकी कीमत (Price) में काफी उछाल दर्ज किया गया।

    फरवरी के महीने में Tesla के मालिक Elon Musk ने अपने 9 महीने के बेटे के लिए DogeCoin Cryptocurrency में निवेश किया था।


    एलोन मस्क ने टेस्ला कंपनी के लिए Bitcoin में पेमेंट लेना बंद कर दिया क्योंकि बिटकॉइन माइनिंग में ऊर्जा की ज्यादा खपत होती है जिससे पर्यावरण को नुकसान पहुंचता है। इससे पहले Elon Musk ने बिटकॉइन में पेमेंट लेना स्वीकार किया था जिससे बिटकॉइन के कीमतों में भारी उछाल देखा गया था।

    अब यह कयास लगाए जा रहे हैं कि आने वाले समय में टेस्ला Dogecoin को एक्सेप्ट करना शुरू कर देगी। साथ ही एलोन मस्क की कंपनी स्पेस एक्स satellite Doge-1 to the moon अगले साल लांच करने जा रही है जिसके फंडिंग डोज कॉइन के जरिए की जाएगी।


    भारत में Dogecoin कैसे खरीदें?

    भारत में मौजूद क्रिप्टो एक्सचेंज जैसे CoinSwitch Kuber, WazirX, CoinCDX, KuCoin और Binance आदि जैसे प्लेटफार्म के जरिए इन्हें आसानी से खरीदा और बेचा जा सकता है और इसकी ट्रेडिंग भी की जा सकती है।

    इसके लिए आप इनमें से किसी भी Crypto Exchange App पर अपना अकाउंट बनाएं तथा केवाईसी कंप्लीट करने के बाद अपनी बैंक डिटेल भरें और डोजकॉइन या किसी भी अन्य क्रिप्टो करेंसी को खरीदे या बेचे।

    किसी भी एक्सचेंज को चुनने से पहले उसके बारे में ठीक से जानकारी हासिल कर ले। एलोन मस्क भी क्रिप्टो करेंसी में निवेश पर सावधानी बरतने की सलाह दे चुके हैं।



    क्या डॉजकॉइन में इन्वेस्ट करना सही रहेगा?

    Doge coin में Invest करना है या नहीं यह पूरी तरह से आप पर निर्भर करता है परन्तु हम आपको याद दिला दें कि डोगेकोइन को मजाक के तौर पर लांच किया गया था परंतु आज इसकी कीमत तेजी से बढ़ रही है।

    हालंकि डोगेकोइन के संस्थापकों को खुद इस Cryptocurrency पर विश्वास नहीं था इसलिए उन्होंने अपने सभी Coins बेच दिए थे। इसके एक क्रिएटर Billy Markus ने अपने सभी Dogecoin बेचकर होंडा की गाड़ी खरीद ली थी।


    डोजकॉइन के फाउंडर ने खरीदे Doge: डोगेकोइन के संस्थापकों में से एक बिल मार्कस ने ट्विट के माध्यम से खुलासा किया है कि उन्होंने क्रिप्टो को फिर कभी नहीं खरीदने की कसम खाने के 8 साल बाद आखिरकार डोगेकोइन में कुछ इन्वेस्ट किया है।

    बिली मार्कस के अनुसार, उन्होंने फिर कभी कोई डिजिटल मुद्रा नहीं खरीदने की कसम खाई थी। लेकिन ऐसा लगता है कि डॉगकोइन की सफलता ने उनके संकल्प को कमजोर कर दिया है। अपनी प्रतिज्ञा को तोड़ते हुए, फाउंडर ने हाल ही में कुछ डॉगकोइन खरीदे है।

    नोट/डिस्क्लेमर:
    आपको अपने वित्तीय निर्णय खुद लेने चाहिए, और अपने निर्णयों की जिम्मेदारी भी लेनी चाहिए। हम किसी भी क्रिप्टो को खरीदने या बेचने की कोई सिफारिश नहीं करते। किसी भी जोखिम के आप खुद जिम्मेदार होंगे।

    follow haxitrick on google news
    NEXT ARTICLE Next Post
    PREVIOUS ARTICLE Previous Post
    -->
    NEXT ARTICLE Next Post
    PREVIOUS ARTICLE Previous Post