-->

PPC क्या है? फुलफॉर्म, Meaning और इसके फायदे

    PPC In Hindi: Pay Per Click क्या है? इसका Full Form, Meaning, Benifits और Use

    What Is PPC in Hindi: पीपीसी ऑनलाइन/डिजिटल मार्केटिंग का एक रूप है, PPC की फुल फॉर्म Pay Per Click होती है जिसका हिंदी मीनिंग (Meaning) है "प्रति क्लिक भुगतान"
    पे-पर-क्लिक विज्ञापन मॉडल के तहत Advertiser (विज्ञापनदाता) अपने Ads (विज्ञापनों) पर होने वाले क्लिक के बदले तय राशि का भुगतान करते है यहाँ एडवरटाइजर्स का मकसद User को अपनी वेबसाइट पर लाकर उन्हें कस्टमर में बदलना होता है। ज्यादातर लोग इसका इस्तेमाल उनके प्रोडक्ट या सर्विस आदि की बिक्री बढ़ाने या लीड उत्पन्न करने में करते है।


    अदि आपको यह समझ नहीं आया तो आइए इसे उदाहरण के साथ बड़ी ही आसानी से समझने का प्रयास करते है।
    PPC Full Form and Meaning in Hindi
    PPC Full Form and Meaning in Hindi

    जब आप गूगल पर कुछ सर्च करते हैं तो कई बार गूगल में आपको दो तरह के सर्च रिजल्ट दिखाई देते हैं,
    ● पहला ऑर्गेनिक सर्च रिजल्ट और
    ● दूसरा paid सर्च रिजल्ट
    अगर आप इन दोनों के बारे में और इन दोनों के बीच अंतर के बारे में समझ जाए, तो आप पीपीसी (Pay Per Click) को आसानी से समझ लेंगे, जिसे Publishers द्वारा CPC यानी Cost Per Click भी कहा जाता है।


    Organic Search Results: ऐसे Websites जो बिना पैसे खर्च किए गूगल के एल्गोरिथ्म और SEO (Search Engine Optimization) का इस्तेमाल कर के Search Engine के SERP (सर्च इंजन रिजल्ट पेज) में अपने आप Rank हो जाते हैं, इन्हें ऑर्गेनिक रिजल्ट कहा जाता है। इनके लिए आपको किसी भी तरह का कोई पैसा नहीं देना होता।

    Organic Search Results Example Using Search Engine Optimization
    Organic Search Results Example Using Search Engine Optimization

    Paid Search Results: Paid सर्च रिजल्ट में ऐसी वेबसाइट्स होती हैं जिनके लिए आपको पैसा देना होता है, जिससे आपकी वेबसाइट गूगल में टॉप पेज, बॉटम पेज या फिर Next Page पर Show होती है, यह पूरी तरह से आपके बजट और क्वालिटी के ऊपर निर्भर करता है। जिस तरह से आप पैसा खर्च करेंगे उस हिसाब से आपके एडवर्टाइजमेंट सर्च इंजन के सर्च रिजल्ट पेज में दिखाई देगी।

    Paid Search Results Example Using Google Adwords
    Paid Search Results Example Using Google Adwords

    PPC Model, Paid Search Results के अंतर्गत आता है, तथा PPC विज्ञापन कई प्रकार के होते हैं, परन्तु इनमें से paid search ad सबसे पोपुलर है।

    उदाहरण के लिए: मान लीजिए आपकी कोई Cake की दूकान है, और आप केक बेचना चाहते हैं, तो आप इसके लिए PPC Advertising का इस्तेमाल कर सकते हैं।
    इसके लिए आप Google Adwords या किसी अन्य Advertising कंपनी के माध्यम से पैसे देकर (Bidding करके) Cake से Related Keyword और Location को Target कर सकते है, ताकि सर्च इंजन में Cake related कीवर्ड सर्च करने पर और target किए गए लोकेशन पर ही आपका Ad (विज्ञापन) दिखाई दें।


    PPC ADs कैसे काम करती है?

    Google Adword और Bing Ads जैसी एडवरटाइजमेंट सर्विसेज Real Time Bidding मॉडल पर काम करती हैं, जहाँ विज्ञापनदाताओं को उन Keywords पर Bidding करनी होती है जिन पर वे अपनी Ads को प्रदर्शित करना चाहते है।

    इसकी मदद से आप टारगेटेड ऑडियंस को अपने ऐड (इश्तहार) दिखा सकते हैं, जिससे आपको ज्यादा से ज्यादा क्लिक मिलेंगे तथा हर क्लिक के लिए आपको तय पैसे देने होंगे और बदले में आप ज्यादा से ज्यादा सेल और लीड हासिल कर पाएंगे।

    बहुत से लोग पीपीसी का इस्तेमाल करके ही अपनी सर्विस और प्रोडक्ट को सेल करते हैं। मान लीजिए हम हर क्लिक के लिए 10 रुपए का भुगतान करते है लेकिन क्लिक के बदले में हमारी 500 रुपए की बिक्री होती है तो हमें काफी ज्यादा फायदा होगा।


    Benefits Of PPC (Pay Per Click के फायदे)

    • टारगेटेड ऑडियंस: आप PPC का इस्तेमाल करके अपने प्रोडक्ट के विज्ञापन को उसकी जरूरत वाले लोगों को ही डिलीवर करते हैं, यहां आप ऑडियंस को Target करने के लिए कीवर्ड्स, लोकेशन के साथ-साथ टाइम, और डिवाइस को भी चुन सकते हैं।

    • बजट फ्रेंडली: यह पूरी तरह से आपके बजट के हिसाब से काम करता है, यह कम बजट से लेकर हाई बजट तक के लोगों द्वारा इस्तेमाल किया जा सकता है।

    • गूगल एल्गोरिथ्म में बदलाव: पीपीसी पर गूगल के एल्गोरिदम चेंज होने का कोई फर्क नहीं पड़ता आप जिस हिसाब से बजट बनाते हैं आपका ऐड उसी तरह गूगल पर दिखाई देगा।

    • कम मेहनत: आपको इसमें मेहनत तो कम करनी पड़ती है क्योंकि इसमें SEO और बाकी गूगल एल्गोरिथम को फॉलो नहीं करना पड़ता, लेकिन इसमें पैसा जरूर खर्च होता है आप यहां कम मेहनत में ही अपने रिजल्ट को गूगल के टॉप पर रैंक करा सकते हैं।

    • ट्रेडिशनल मार्केटिंग से सस्ता: ट्रेडिशनल या ऑफलाइन मार्केटिंग में विज्ञापनों में जितना पैसा खर्च होता है, उससे कई गुना कम पैसा डिजिटल या ऑनलाइन मार्केटिंग में देना होता है और रिजल्ट भी आपको उससे काफी ज्यादा अच्छे मिलते हैं।

    अगर आप ट्रेडिशनल मार्केटिंग और डिजिटल मार्केटिंग के अंतर को समझने के लिए जरूर पढ़े: 👉Traditional Marketing Vs Digital Marketing in Hindi

    PPC Advertising Service Providers:

    Google Adwords: गूगल द्वारा संचालित गूगल एडवर्ड्स गूगल पर सर्च रिजल्ट को टारगेट करने के लिए सबसे बेस्ट मानी जाती है, आप इसका इस्तेमाल करके पे पर क्लिक एडवरटाइजिंग कर सकते हैं।
    और अगर आप चाहे तो:
    Facebook Paid Ads
    Yahoo!/Bing Ads from Microsoft
    Bidvertiser
    और दूसरी पीपीसी एडवरटाइजिंग का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।



    अन्तिम शब्द

    फ्रेंड्स आज के इस लेख में आपको Pay Per Click Kya Hai, PPC Full Form, PPC Ka Matlab SEO, PPC Meaning in Hindi, PPC Ke Fayade Benefits, What is PPC In Hindi, CPC Kya Hota Hain, PPC in Digital Marketing, Cost Per Click Tutorial In Hindi, Google Adwords के बारे में जानकारी दी गयी, अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगती है तो इसे अपने Blogger Friends के साथ भी जरूर शेयर करें और अपने सवाल या सुझाव हमें कमेंट करके जरूर बताए।

    NEXT ARTICLE Next Post
    PREVIOUS ARTICLE Previous Post
    -->
    NEXT ARTICLE Next Post
    PREVIOUS ARTICLE Previous Post