विश्व पशु दिवस क्यों मनाया जाता है, कैसे मनाया जाता है, इतिहास

    WORLD ANIMAL DAY: विश्व पशु दिवस क्यों मनाया जाता है, कैसे मनाया जाता है, इतिहास

    WORLD ANIMAL DAY: विश्व पशु दिवस कब, क्यों मनाया जाता है, कैसे मनाया जाता है, इतिहास

    World Animal Day in Hindi 2019: : दोस्तों दुनिया भर में हर वर्ष 4 अक्टूबर को वर्ल्ड एनिमल डे यानी के अंतरराष्ट्रीय पशु दिवस के रूप में मनाया जाता है।

    दोस्तों पृथ्वी पर जीवन बरकरार रखने के लिए जानवरों और मनुष्य के बीच बैलेंस होना काफी जरूरी है अगर ऐसा नहीं होता तो पृथ्वी पर जीवन नामुमकिन है जानवरों का खाद्य श्रृंखला और इको सिस्टम पर काफी ज्यादा प्रभाव पड़ता है इसी से पृथ्वी पर जीवन आज भी जीवित है।

    विश्व पशु दिवस एक ऐसा दिन है जिसमें दुनिया भर के लोग जानवरों की भलाई और अधिकारों के लिए काम करते हैं। यह प्रत्येक वर्ष 4 अक्टूबर को मनाया जाता है, विश्व पशु दिवस का मिशन दुनिया भर के जानवरों के लिए कल्याण मानकों में सुधार करना है और सभी जानवरों के लिए दुनिया को बेहतर जगह बनाने के लिए काम करना है।
    World Animal Day in Hindi 4 October 2019
    World Animal Day in Hindi 4 October 2019

    और आज के इस पोस्ट में हम आपको वर्ल्ड एनिमल डे के बारे में पूरी जानकारी देने वाले हैं और आपको विश्व पशु दिवस क्यों मनाया जाता है, अंतर्राष्ट्रीय पशु दिवस कैसे मनाया जाता है और  वर्ल्ड एनिमल डे का इतिहास क्या है। इन सभी के बारे में बताने वाले हैं।

    विश्व पशु दिवस का इतिहास | World Animal Day History In Hindi

    24 मार्च, 1925 को, मूल रूप से विश्व पशु दिवस का आयोजन हेनरिक ज़िमरमैन (1887-1942) नामक एक जर्मन द्वारा किया गया था, यह न केवल एक लेखक थे, बल्कि उन्होने एक द्वि-मासिक पत्रिका भी प्रकाशित की। जिसका नाम Mensch und Hund/Man And Dog था, इसे उन्होंने इस पत्रिका को पशु कल्याण पर अपने विचारों को बढ़ावा देने के लिए एक माध्यम के रूप में इस्तेमाल किया और अंततः विश्व पशु दिवस समिति की स्थापना के लिए इसका इस्तेमाल किया।

    24 मार्च 1925 में, उनकी समिति ने विश्व पशु दिवस का आयोजन किया। उन्होंने उस समय के पशु कल्याण मुद्दों के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए बर्लिन, जर्मनी के स्पोर्ट्स पैलेस में इसका आयोजन किया और लगभग 5,000 लोगों ने इस पहले कार्यक्रम को देखा।

    अगले कुछ वर्षों में, यह कार्यक्रम हर साल आयोजित किया गया और अंततः 1929 में, यह 4 अक्टूबर को आयोजित किया गया।

    मई 1931 में अंतर्राष्ट्रीय पशु संरक्षण द्वारा 4 अक्टूबर को विश्व पशु दिवस मनाने का संकल्प अपनाया गया था।

    जिसके बाद से आज पूरी दुनिया में जानवरो की भलाई के लिए वर्ल्ड एनिमल डे मनाया जाता है।

    आइये अब जानते है विश्व पशु दिवस या विश्व पशु संरक्षण दिवस क्यों मनाते है इसके पीछे छिपे उद्देश्य के बारे मे...

    When We Celebrate World Animal Day in Hindi – अंतर्राष्ट्रीय पशु दिवस कब मनाया जाता है 2019

    लोगों को जानवरों के प्रति जागरुक करने के लिए हर साल अन्तराष्ट्रीय स्तर पर विश्व पशु दिवस (World Animal Day) 4 अक्टूबर को सेलिब्रेट किया जाता है और इस साल भी वर्ल्ड एनिमल डे, शुक्रवार 4 अक्टूबर 2019 को मनाया जायेगा।

    विश्व पशु दिवस क्यों मनाया जाता है – Why World Animal Day is Celebrated in Hindi

    वास्तव में विश्व पशु संरक्षण दिवस के दिन को जानवरों को बचाने और उनके प्रति जागरूकता फैलाने लिए मनाया जाता है।

    यह और भी बहुत से उद्देश्यों से मनाया जाता है जो निम्न है:

    जानवरों के प्रति इंसानो की क्रूरता को कम करना

    जानवरों के लिए प्राकृति द्वारा बनाए गए जंगलों को बचाना

    पशुओं की भावनाओं का सम्मान करें

    पशुओं की स्थिति बेहतर करने के लिए इनमें भी मनुष्य की तरह जीव है, अत: यह भी सम्मान का हक़ रखते है।

    पशु चिकित्सा और संरक्षण को बढ़ावा देना

    लुप्त होने की कगार पर पहुचने वाली प्रजातियों को बचाना

    वाइल्ड लाइफ को नियंत्रित करना।

    विश्व पशु दिवस कैसे मनाया जाता है | How Do We Celebrate In Hindi

    वर्ल्ड एनिमल डे को विश्वभर में अलग अलग जगहों पर अलग अलग तरीकों से मनाया जाता है और कई कार्यक्रमों का आयोजन तथा एक्टिविटीज भी की जाती है।

    ---------यह भी पढ़े:----------
    विश्व पशु दिवस क्यों मनाया जाता है, कैसे मनाया जाता है, इतिहास विश्व पशु दिवस क्यों मनाया जाता है, कैसे मनाया जाता है, इतिहास Reviewed by HaxiTrick on Friday, October 04, 2019 Rating: 5

    WORLD ANIMAL DAY: विश्व पशु दिवस क्यों मनाया जाता है, कैसे मनाया जाता है, इतिहास World Animal Day in Hindi 4 October 2019

    NEXT ARTICLE Next Post
    PREVIOUS ARTICLE Previous Post
    -->
    NEXT ARTICLE Next Post
    PREVIOUS ARTICLE Previous Post