-->

Sanitizer क्या है? Hindi Meaning और इसके फायदे-नुकसान एवं Side Effects

    Advertisement

    Sanitizer क्या होता है? इसके फायदे-नुकसान और Side Effects की जानकारी

    जब से दुनिया भर में कोरोनावायरस महामारी अस्तित्व में आई है तब से लोग हैंड सैनिटाइजर और मास्क पर काफी ज्यादा जोर देते हैं ऐसे में कई लोगों के लिए Hand Sanitizer एक नई चीज है तो वहीं कई लोग इसका इस्तेमाल कोरोना वायरस से पहले भी अपने हाथों को डिसइनफेक्ट (वायरस मुक्त) करने के लिए करते आ रहे है।

    लेकिन अगर आपको यह नहीं पता कि सैनिटाइजर क्या होता है? इसके फायदे और नुकसान क्या है और इसके ज्यादा इस्तेमाल करने से क्या कुछ Side Effects हो सकते हैं तो हम आपको आज के इस लेख में यह सब कुछ बताने जा रहे हैं।

    Sanitizer Kya Hai Meaning in Hindi
    Sanitizer Kya Hai Meaning in Hindi

    कोरोनावायरस काल की शुरुआत में तो हैंड सैनिटाइजर की बिक्री कुछ इस तरह हुई की दुकानों पर इसके भारी स्टॉक तक कुछ घंटों में ही खत्म हो गए। और लोगों ने मास्क और हैंड सैनिटाइजर की खरीदारी जमकर की।

    कई वीडियोस में तो यह भी दिखा कि लोगों को इसकी ज्यादा जानकारी नहीं होने के कारण वे हैंड सेनीटाइजर को पीते नजर आए और कई लोगों की इसे पीने से मौत भी हो गई।

    क्योंकि उन्हें हैंड सेनीटाइजर के बारे में अधिक जानकारी नहीं थी और उन्हें यह भी बताया गया था कि इस में अल्कोहल की मात्रा होती है।

    तो आइए आपको हैंड सेनीटाइजर क्या होता है? Sanitizer की Hindi Meaning और इसके बारे में पूरी जानकारी देते हैं।


    Sanitizer क्या होता है? Meaning in Hindi

    Sanitizer अंग्रेजी वर्णमाला का एक शब्द है जिसकी उत्पत्ति Sanitize से हुई है तथा सैनिटाइज का हिंदी अर्थ स्वच्छ होता है। और इस आधार पर यह कहना बिल्कुल सही होगा की सैनिटाइजर का मतलब 'स्वच्छ करने वाला' होता है।

    इसी तरह से Hand Sanitizer का Hindi Meaning 'हाथ स्वच्छ करने वाला' होगा।


    हालांकि Dictionary में सैनिटाइजर का हिंदी मीनिंग 'प्रक्षालक' है।

    सैनिटाइजर की संज्ञा के रूप में डिसइनफेक्ट (Disinfect) का इस्तेमाल किया जा सकता है। यह शब्द पहली बार 1945 से 1950 के बीच रिकॉर्ड किया गया था।


    Sanitizer क्या होता है?
    Sanitizer एक तरल पदार्थ होता है जो कई केमिकल्स जैसे क्लोरीन, मेथनॉल, हाइपोक्लोराइट और आइसोप्रोपाइल अल्कोहल आदि से मिलकर बना होता है। जिनमें Alcohol की मात्रा सबसे अधिक करीबन 60 फ़ीसदी होती है उन्हें अल्कोहल युक्त सैनिटाइजर भी कहा जाता है।

    इसका इस्तेमाल किसी स्थान या हाथ को वायरस मुक्त बनाने के लिए किया जाता है। और यह कोरोना वायरस को मारने के लिए ख़ासा प्रभावकारी है


    यह भी पढ़ें:
    Plasma Therapy in Hindi: जानिए क्या है प्लाज्मा थेरेपी, कैसे होगा कोरोना का इलाज़

    वेंटिलेटर क्या है? जानिए इसका उपयोग और कोरोना मरीजों के लिए इसकी ज़रूरत

    घर में खाली समय में क्या करें - टाइम पास कैसे करें


    सैनिटाइजर के फायदे और इस्तेमाल | Benefits and Use of Sanitizer

    • सैनिटाइजर का इस्तेमाल करने से हाथ पर मौजूद सभी कीटाणु मर जाते हैं और इसमें मौजूद केमिकल की वजह से यह कोरोना जैसे जानलेवा वायरस को भी मारने में सक्षम है।

    • अगर आ किसी ऐसी जगह है जहां साबुन-पानी का इंतजाम नहीं किया जा सकता ऐसे में आप इसका इस्तेमाल करके अपने हाथों को वायरस मुक्त (डिसइनफेक्ट) कर सकते हैं।

    • इसकी मदद से किसी बड़ी बिल्डिंग या जगह को आसानी से Sanitize करके उसे Disinfect (वायरस मुक्त) किया जा सकता है।

    • बाजार में यह अलग-अलग कीमतों पर आसानी से उपलब्ध है।

    Hand Sanitizer Benefits and Side Effects
    Hand Sanitizer Benefits and Side Effects

    Sanitizer के नुकसान या Side Effects

    • इसके अधिक इस्तेमाल से आपकी त्वचा में जलन जैसी समस्याएं उत्पन्न हो सकती हैं। यह सैनिटाइजर में मौजूद बेंजाल्कोनियम क्लोराइड नामक रसायन के कारण होता है।

    • हैंड सैनिटाइजर में मौजूद ट्राइक्लोसान नामक केमिकल हाथों की त्वचा द्वारा सोखे जाने पर रक्त तक पहुंच सकते हैं, और मांसपेशियों के ऑर्डिनेशन तक पहुँचकर उसे नुकसान पहुंचा सकता है।

    • अगर आप एक अधिक खुशबू वाला सैनिटाइजर इस्तेमाल कर रहे हैं तो इसकी वजह से आपके लीवर, किडनी, फेफड़ों और प्रजनन तंत्र पर भी बुरा प्रभाव पड़ सकता है क्योंकि अधिक खुशबू वाले सैनिटाइजर में फैथलेट्स नामक केमिकल का इस्तेमाल किया जाता है।

    • इसमें सबसे अधिक मात्रा अल्कोहल की होती है और यह बच्चों के द्वारा इस्तेमाल किए जाने पर उनकी इम्यूनिटी पर बुरा प्रभाव डालता है।

    • इसका इस्तेमाल करने का एक नुकसान यह भी होता है कि यह अच्छे कीटाणुओं को खत्म कर देता है इससे जो हमारे शरीर के लिए अच्छे बैक्टीरिया हमारे हाथों पर होते हैं वह भी खत्म हो जाते हैं।

    यह भी पढ़ें:
    10+ Benefits of Yoga in Hindi: योग का महत्व और इसका मानसिक व शारीरिक लाभ

    विश्व रक्तदाता दिवस की जानकारी


    सैनिटाइजर इस्तेमाल करते समय ध्यान रखने वाली बातें

    • इसका इस्तेमाल करने के तुरंत बाद आप किसी खाद्य पदार्थ का सेवन ना करें क्योंकि सैनिटाइजर में मिले केमिकल्स खाद्य पदार्थ के साथ आपके पेट में चले जाते हैं और इनसे फूड पॉइजनिंग जैसी दिक्कतें होती हैं और आप को उल्टी-दस्त जैसी समस्याएं हो सकती।

    • कभी भी सैनिटाइजर इस्तेमाल करने के बाद आग या किसी भी ज्वलनशील पदार्थ जैसे रसोई गैस या चूल्हे के पास मत जाए। इससे पहले अपने हाथों को अच्छी तरह साबुन से धो लें या इसे अच्छी तरह सुखा लें।

      क्योंकि सेनीटाइजर में मौजूद अल्कोहल काफी जल्दी आग पकड़ता है।

    • Hand Sanitizer का इस्तेमाल करते समय अपने हाथों को तब तक रगड़ें जब तक वह पूरी तरह सूख न जाएं।

    • खाने से पहले हमेशा साबुन से हाथ धोएं सैनिटाइजर से नहीं।

    • शौच करने के बाद भी साबुन से ही हाथ धोएं। हाथों से कीटाणु पूर्ण रूप से खत्म करने के लिए अपने हाथों को करीबन 20 सेकंड तक साबुन से अच्छी तरह से धोएं।

    • सैनिटाइजर खरीदते समय यह ध्यान रखें कि उसमें Triclosan नामक पदार्थ ना हो यह शरीर की Immunity और रोग प्रतिरोधक क्षमता को नुकसान पहुंचाता है इससे एलर्जी जैसी समस्याएं हो सकती हैं।

    • हैंड सैनिटाइजर का इस्तेमाल करने के बाद अपने हाथ से चेहरे और आंखों को ना छुएं यह संवेदनशील त्वचा होती है जो सैनिटाइजर में इस्तेमाल किए गए रसायन के वजह से रिएक्शन कर सकती हैं।

      और एलर्जी, दाने और सूजन जैसी समस्याएं उत्पन्न हो सकती हैं।

    यह भी पढ़ें:
    Hanta Virus in Hindi: क्या है China का हंता वायरस - पूरी जानकारी

    Lockdown Meaning in Hindi: लॉकडाउन का क्या मतलब है?


    सैनिटाइजर पीने से क्या होगा?

    सैनिटाइजर में अल्कोहल के साथ-साथ कई दूसरे केमिकल भी मिले होते हैं जिसे शरीर को भारी नुकसान पहुँच सकता है और इंसान की मौत तक हो सकती है।

    दुनिया भर में ऐसे कई मामले सामने आ चुके हैं जिनमें कई लोगों की मौत से सैनिटाइजर पीने से हुई है।

    आपको बता दें कि सैनिटाइजर में इस्तेमाल किया जाने वाला अल्कोहल शराब में इस्तेमाल किए जाने वाले अल्कोहल से काफी ज्यादा अलग होता है यह 'आइसोप्रोपाइल अल्कोहल' (Isopropyl Alcohol) होता है जो शरीर के अंदर जाने से उसे नुकसान पहुंचाता है।


    अंतिम शब्द

    अब तो आपको पता चल ही गया होगा कि Sanitizer का क्या मतलब होता है और इसके फायदे और नुकसान क्या है साथ ही इसके Side Effects के बारे में भी आपको जानकारी मिल गई होगी तो आज से आप हैंड सेनीटाइजर का सही इस्तेमाल करना शुरू कीजिए ताकि आपको भी किसी भी तरह की परेशानी ना हो।

    अगर आपको हमारे Hand Sanitizer Meaning in Hindi की यह जानकारी अच्छी लगी तो इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ भी जरूर शेयर करें ताकि उन्हें भी 'प्रक्षालक' के विषय में यह महत्वपूर्ण जानकारियां मिल सके।

    The End
    NEXT ARTICLE Next Post
    PREVIOUS ARTICLE Previous Post
    -->
    NEXT ARTICLE Next Post
    PREVIOUS ARTICLE Previous Post
     

    About Writer