आज है विश्व एड्स दिवस, जाने वर्ल्ड एड्स डे कब, क्यों व कैसे मनाते है और क्या है 2019 की थीम

    World AIDS Day 2019: 1 दिसंबर को मनाया जा रहा है, जाने वर्ल्ड ऐड्स डे कब, क्यों व कैसे मनाते है और क्या है 2019 की थीम

    World AIDS Day 1st December 2019 Hindi: हर साल अंतरराष्ट्रीय स्तर पर 1 दिसंबर को विश्व एड्स दिवस मनाया जाता है, इसे मनाए जाने का मुख्य मकसद लोगों को एचआईवी (HIV) संक्रमण से होने वाली बीमारी एड्स के बारे में जागरूक करना है. इस दिन के अवसर पर सभी देशों में एड्स जागरूकता कार्यक्रम चलाए जाते हैं. साथ ही भाषण, चर्चा और टेस्टिंग कैंप भी लगाए जाते हैं, साथ ही हर साल वर्ल्ड एड्स डे २०१९ (World AIDS Day 2019 Theme in Hindi) एक खास थीम के साथ मनाया जाता है इस बार भी यह दिन एक Theme के साथ ही मनाया जाएगा.
    World AIDS Day 2019 Information In Hindi Vishva AIDS Diwas Image Pic
    World AIDS Day 1 December 2019 Information In Hindi Vishva AIDS Diwas Images
    दोस्तों एड्स (जिसकी फुल फॉर्म एक्वायर्ड इम्यून डिफिशिएंसी सिंड्रोम है) एचआईवी (जिसकी फुलफॉर्म ह्यूमन इम्यूनोडिफिशिएंसी वायरस है) के कारण होता है.

    आइए अब आपको बताते हैं कि वर्ल्ड ऐड्स डे कब मनाया जाता है (When World AIDS Day Celebrated In Hindi), विश्व एड्स दिवस क्यों मनाया जाता है (Why World AIDS Day Is Celebrated In India) तथा विश्व एड्स दिवस २०१९ की थीम क्या है (World AIDS Day 2019 Theme In Hindi).

    विश्व एड्स दिवस कब मनाया जाता है | When World AIDS Day Celebrated In Hindi

    विश्व एड्स दिवस प्रत्येक वर्ष 1 दिसंबर को मनाया जाता है, 1988 में स्थापित वर्ल्ड एड्स डे वैश्विक स्वास्थ्य दिवस था, इस साल भी वर्ल्ड एड्स डे रविवार 1 दिसंबर 2019 को मनाया जाएगा.

    अगस्त 1987 में जेम्स डब्ल्यू वन और थॉमस मैटर नाम के व्यक्ति ने सबसे पहले विश्व एड्स दिवस बनाया, आपको बता दे विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) में एड्स ग्लोबल कार्यक्रम के अधिकारी के रूप में जिनेवा, स्विट्जरलैंड में नियुक्त किए गए थे. उन्हीं के द्वारा डब्ल्यूएचओ के ग्लोबल ऑन एड्स के डायरेक्टरेट जॉनाथन मान के सामने यह सुझाव रखने पर जोनाथन को यह सुझाव उचित लगने पर 1 दिसंबर 1988 को विश्व एड्स दिवस मनाने के रूप में चुना गया. तभी से यह दिन विश्व एड्स दिवस (World AIDS Day) के रूप में मनाया जाता है.

    वर्ल्ड एड्स दिवस क्यों मनाया जाता है उद्देश्य | Why World AIDS Day Is Celebrated In India

    विश्व एड्स दिवस मनाने के पीछे का मुख्य उद्देश्य दुनिया भर के लोगों के लिए एचआईवी के खिलाफ लड़ाई में एकजुट होकर खड़े होने, एचआईवी संक्रमित व्यक्ति के साथ रहने के लिए समर्थन दिखाने, और एड्स से संबंधित बीमारी से मरने वाले लोगों के लिए शोक मनाने के लिए मनाया जाता है.

    साथ ही इसका मेन मोटिव एड्स जैसे रोगों के बारे में जागरूकता फैलाना और एचआईवी संक्रमण के बारे में जागरूकता बढ़ाना है, यानी कि एड्स होने के कारणों और इसके लक्षणों को समझाना है और इससे बचने के उपायों को लोगों तक पहुंचाना होता है.

    यूके में एक लाख 16 सौ से अधिक लोग एचआईवी वायरस के साथ जी रहे हैं जिसकी संख्या विश्व स्तर पर लगभग 36.7 मिलियन है, हालांकि इस वायरस के पहचान 1984 में ही की जा चुकी है लेकिन इसके बावजूद भी अब तक 35 मिलियन से अधिक लोग एचआईवी एड्स से मर चुके हैं, यह इतिहास में सबसे विनाशकारी महामारी है.

    विश्व एड्स दिवस कैसे मनाया जाता है | How World Aids Day Is Celebrated In Hindi

    विश्व एड्स दिवस दुनिया भर में एचआईवी संक्रमित लाखों लोगों के साथ एकजुटता दिखाने का अवसर है, अधिकांश लोग इस दिन एचआईवी जागरूकता के लिए लाल रिबन (Red Ribbon) पहनते हैं, यह लाल रिबन ऑनलाइन स्टोर या किसी भी केमिस्ट स्टोर से खरीदे जा सकता है.

    यह भी पढ़ें:

    👉 ब्लैक फ्राईडे और साइबर मंडे क्या है कब और क्यों मनाया जाता है - Sale 2019

    👉 Happy Thanksgiving Day 2019: 28 November को क्यों और कैसे मनाते है धन्यवाद दिवस, जाने इतिहास

    👉 भारतीय संविधान दिवस 2019: 26 नवंबर को क्यों मनाया जाता है राष्ट्रीय कानून दिवस जाने

    👉 विश्व टेलीविजन दिवस कब और क्यों मनाते है, जानिए World Television Day 2019 पर TV का महत्व

    👉 फ़ास्टैग की पूरी जानकारी मिलेगी यहाँ, जानिए कैसे अप्लाई करे और इसके फायदे और इस्तेमाल

    👉 30 नवंबर को मनाया जाएगा कंप्यूटर सिक्योरिटी डे, जाने कंप्यूटर सुरक्षा दिवस का महत्व

    वर्ल्ड एड्स दिवस की थीम | World AIDS Day 2019 Theme In Hindi

    दोस्तों हर साल यह दिन एक विशेष Theme के साथ मनाया जाता है हर साल की थीम का कोई ना कोई मतलब जरूर होता है साथ ही इस बार की थीम भी कुछ अलग है 2019 वर्ल्ड एड्स दिवस की थीम कम्युनिटी मेक द डिफरेंस (हिंदी में: समुदाय फर्क करते हैं) है.

    List of Last 10 Year World AIDS Day Theme
    YearTheme
    1988 Communication
    2009 Universal Access and Human Rights
    2010 Universal Access and Human Rights
    2011 Getting to Zero
    2012 Together we will end AIDS
    2013 Zero Discrimination
    2014 Close the gap
    2015 On the fast track to end AIDS
    2016 Hands up for #HIVprevention
    2017 My Health, My Right
    2018 Know your status
    2019 Communities make the difference

    एड्स होने के कारण | Cause Of AIDS In Hindi:

    • 1. असुरक्षित यौन संबंध: एड्स होने का सबसे मुख्य कारण असुरक्षित यौन संबंध यानि बिना कंडोम के सेक्स माना जाता है, इसका अर्थ यह है कि अगर आप किसी HIV Positive व्यक्ति से अनसेफ सेक्स करते हैं तो आप एचआईवी ग्रस्त हो सकते हैं.

    • 2. संक्रमित सुई: बार-बार इस्तेमाल किए जाने वाले इंजेक्शन से भी एड्स होने की संभावना बढ़ती है हमेशा इंजेक्शन के लिए नए सुई का ही इस्तेमाल करें.

    • 3. संक्रमित महिला का बच्चा: अगर कोई महिला एचआईवी पॉजिटिव है, तो हो सकता है कि उसके गर्भ से पैदा होने वाला बच्चा भी एचआईवी संक्रमित हो, लेकिन यह जरूरी नहीं है कि वह एचआईवी पॉजिटिव ही होगा.

    • 4. संक्रमित खून: खून चढ़ाते समय हमेशा खून की जांच की जानी चाहिए, अगर कोई भी ब्लड सैंपल एचआईवी पॉजिटिव है, तो उसे मरीज को नहीं चढ़ाना चाहिए.

    एचआईवी के लक्षण | Symptioms of HIV AIDS

    दोस्तों एचआईवी कोई खांसी जुखाम जैसी बीमारी नहीं है यह धीरे धीरे आपको कवर करती है और एड्स हो जाने पर निम्नलिखित लक्षण सामने निकल कर आते हैं जो इस प्रकार है:

    थकावत महसूस होना
    स्किन प्रॉब्लम
    बुखार आना
    उल्टी दस्त होना
    जुखाम
    गले में खराश
    भूख कम लगना
    पसीना आना
    सांस लेने में समस्या
    वजन घटना आदि.

    एड्स के बारे में फैलाई गई पांच गलत बातें
    1. चुम्बन से: एचआईवी संक्रमित पीड़ितों के सलाइवा में HIV वायरस की मात्रा काफी कम या न के बराबर होती है इसलिए यह चुम्बन से नहीं फैलता है.

    2. पानी से: एचआईवी पॉजिटिव व्यक्ति के स्विमिंग पूल में नहाने, उसके कपड़े धोने, उसका झूठा पानी पीने यहां तक कि बाथरूम का इस्तेमाल करने से भी यह वायरस नहीं फैलता.

    3. साथ रहने से: यह वायरस हवा से नहीं फैलता, साथ ही आपके आस पास एचआईवी पीड़ित व्यक्ति के छींकने या थूकने से भी यह वायरस नहीं फैलता.

    4. मच्छर काटने से: दोस्तों मच्छर से मलेरिया डेंगू जैसी बीमारी जरूर हो सकती है, लेकिन एचआईवी एड्स पीड़ित को काटे हुए मच्छर के आप के काटने से नहीं फैलता.

    5. किसी से भी हो सकता है: आपको एचआईवी ऐड्स किसी से भी नहीं, लेकिन किसी भी उस इंसान से हो सकता है जो पहले से ही एचआईवी ग्रसित है, जिसमें अनसेफ सेक्स, संक्रमित सुई, संक्रमित व्यक्ति का रक्त चढ़ाने और ऑर्गन ट्रांसप्लांट से साथ ही एचआईवी ग्रसित मां से उसके बच्चे को हो सकता है.

    अंतिम शब्द | Summary

    दोस्तों अब तो आप समझ ही गए होंगे कि वर्ल्ड ऐड्स डे कब मनाया जाता है (When World AIDS Day Celebrated In Hindi), विश्व एड्स दिवस क्यों मनाया जाता है (Why World AIDS Day Is Celebrated In India) तथा विश्व एड्स दिवस २०१९ की थीम क्या है (World AIDS Day 2019 Theme In Hindi).

    If You Like This Article Please Share With Your Friends.
    ---------यह भी पढ़े:----------
    आज है विश्व एड्स दिवस, जाने वर्ल्ड एड्स डे कब, क्यों व कैसे मनाते है और क्या है 2019 की थीम आज है विश्व एड्स दिवस, जाने वर्ल्ड एड्स डे कब, क्यों व कैसे मनाते है और क्या है 2019 की थीम Reviewed by HaxiTrick on Sunday, December 01, 2019 Rating: 5

    वर्ल्ड ऐड्स डे कब मनाया जाता है, When World AIDS Day 2019 Celebrated In Hindi, विश्व एड्स दिवस क्यों मनाते है, Why World AIDS Day Is Celebrated In India, २०१९ की थीम क्या है, Theme

    NEXT ARTICLE Next Post
    PREVIOUS ARTICLE Previous Post
    -->
    NEXT ARTICLE Next Post
    PREVIOUS ARTICLE Previous Post