अंतरराष्ट्रीय मानव एकता दिवस 2023 (International Human Solidarity Day)

अंतर्राष्ट्रीय मानव एकता दिवस कब मनाया जाता है?

Antarrashtriya Manav Ekta Diwas 2023: दुनिया भर में एकता और भाईचारे का संदेश देने के लिए विश्व स्तर पर प्रत्येक वर्ष 20 दिसंबर को अंतरराष्ट्रीय मानव एकता दिवस (International Human Solidarity Day) मनाया जाता है। इसे मनाने की शुरूआत संयुक्त राष्ट्र द्वारा 22 दिसंबर 2005 को इसकी घोषणा करने के साथ ही हो गयी थी, और वर्ष 2006 में इसे पहली बार मनाया गया था।

2023 में 18वां अंतर्राष्ट्रीय मानव एकजुटता दिवस बुधवार, 20 दिसंबर को मनाया जा रहा है। यह दिन विविधता में हमारी एकता का जश्न मनाने का एक बहुत ही महत्त्वपूर्ण दिन है। आइए अब आपको इंटरनेशनल ह्यूमन सॉलिडेरिटी डे क्यों मनाया जाता है? इसके बारे में विस्तार से बताते है।

international Human Solidarity Day
international Human Solidarity Day
International Human Solidarity Day in Hindi
नाम:अंतर्राष्ट्रीय मानव एकता दिवस
तिथि:20 दिसम्बर (वार्षिक)
शुरूआत:22 दिसंबर 2005
पहली बार:20 दिसंबर 2006

 

अंतरराष्ट्रीय मानव एकजुटता दिवस की शुरूआत कब और कैसे हुई? (इतिहास)

संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा संकल्प 60/209 के माध्यम से 22 दिसंबर 2005 को एकजुटता को मूलभूत और सार्वभौमिक मूल्यों में से एक के रूप में पहचाना गया, जिसके फलस्वरूप 20 दिसंबर को हर साल अंतर्राष्ट्रीय मानव एकजुटता दिवस घोषित करने का निर्णय लिया गया।

इससे पहले जनरल असेंबली ने संकल्प 57/265 द्वारा 20 दिसंबर 2002 को विश्व एकजुटता कोष (World Solidarity Fund) की स्थापना की थी, जिसे फरवरी 2003 में संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम के ट्रस्ट फंड के रूप में स्थापित किया गया था। इसका मूल उद्देश्य विकासशील देशों में गरीबी को मिटाना और मानव और सामाजिक विकास को बढ़ावा देना है।

मिलेनियम डिक्लेरेशन में एकजुटता को 21वीं सदी में अंतरराष्ट्रीय संबंधों के मूलभूत मूल्यों में से एक माना गया है, जिसमें सबसे अधिक पीड़ित या सबसे कम लाभ उठाने वाले लोग, उन लोगों से मदद पाने के हकदार हैं जिन्हें सबसे अधिक लाभ प्राप्त होता हैं।

 

अंतर्राष्ट्रीय मानव एकता दिवस क्यों मनाया जाता है?

इंटरनेशनल ह्यूमन सॉलिडेरिटी डे हमारी विविधता में एकता के जश्न को मनाने के उद्देश्य से संयुक्त राष्ट्र की गुजारिश पर प्रतिवर्ष 20 दिसम्बर को एकजुट होकर जनता के बीच भाईचारा, सौहार्द और शांति बनाए रखने के संदर्भ में मनाया जाता है।

इसकी थीम एकजुटता के महत्व के बारे में लोगों को जागरूक करने पर केंद्रित है, तथा यह दिन गरीबी उन्मूलन सहित सतत विकास लक्ष्यों की उपलब्धि के लिए एकजुट होकर काम करने का काफी अहम दिन है, जिससे संपूर्ण विश्व में एकता और अखंडता बनी रहे।

संयुक्त राष्ट्र महिला (UN Women) लिंग समानता पर संदेश के साथ इंटरनेशनल ह्यूमन सॉलिडेरिटी डे का प्रतीक है तथा लिंग समानता के लिए HeForShe संयुक्त राष्ट्र का वैश्विक एकजुटता आंदोलन है।

 

पहला इंटरनेशनल हुमन सॉलिडेरिटी डे कार्यक्रम

पहला मानव एकता दिवस वर्ष 2006 में मनाया गया, जिसका शुभारंभ दूसरी समिति की अध्यक्ष रही, टीना इंटेलमैन (Tiina Intelmann) ने किया।

इस अन्तर्राष्ट्रीय दिवस के लिए एक प्रतीक चिन्ह (Logo) के अनावरण के बाद, संयुक्त राष्ट्र के मुख्यालय में एक समारोह के दौरान नोबेल पुरस्कार विजेता और पोलैंड के पूर्व राष्ट्रपति तथा एकजुटता आंदोलन के सह संस्थापक लेक वाल्सा (Lech Walesa) ने मानव एकता पर समर्पित इस महत्वपूर्ण दिन का स्वागत करते हुए इस लॉन्च के मुख्य वक्ता के रूप में भाषण दिया था।

इसके साथ ही उन्होंने दुनिया के गरीबों के लिए बेहतर जीवन प्रदान करने के उद्देश्य से एक विशेष मानव एकजुटता के कोष का प्रस्ताव भी रखा।

 

मानव एकता या एकजुटता का अर्थ (Meaning of Solidarity)

एकता का अर्थ है एकजुट होना या फिर साथ मिलकर काम करना। एकता एक ऐसी शक्ति है, जिससे बलवान से बलवान शत्रु को भी आसानी से पराजित किया जा सकता है।

मानव एकता के संदर्भ में एकता का अर्थ अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सभी देशों को मिलकर काम करने के लिए आमंत्रित करना है। जिससे विश्व स्तर पर आपसी प्रेम, भाईचारा और एकता बनी रहे और एक अच्छे संसार का निर्माण किया जा सके।

 

दिसम्बर माह में आने वाले महत्वपूर्ण दिवस
दिनांकदिवस
19 दिसंबर:गोवा मुक्ति दिवस
22 दिसंबर:राष्ट्रीय गणित दिवस/श्रीनिवास रामानुजन जयंती
23 दिसंबर:किसान दिवस/चौधरी चरणसिंह जयंती
25 दिसंबर:सुशासन दिवस (अटल बिहारी वाजपेयी जयंती)

 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *