NATIONAL MARITIME DAY 2020: 5 अप्रैल को मनाया जाता है राष्ट्रीय समुद्री दिवस, जानिए थीम और इतिहास

    National Maritime Day 2020: कब, क्यों और कैसे मनाया जाता है राष्ट्रीय समुद्री दिवस जानिए थीम और इतिहास

    National Maritime Day of India 2020: दोस्तों Maritime का हिंदी मीनिंग समुद्री होता है और भारत एक प्रायद्वीपीय देश है, क्योंकि यह तीनों तरफ से समुंद्र से घिरा हुआ है और इंडिया में हर साल 5 अप्रैल को राष्ट्रीय समुद्री दिवस (National Maritime Day of India) मनाया जाता है। इस साल भारत में नेशनल मैरिटाइम डे का 57वां संस्करण 5 अप्रैल 2020 को रविवार के दिन मनाया जाएगा।


    पहली बार: राष्ट्रीय समुद्री दिवस पहली बार 1964 को मनाया गया था जहाँ इस दिन 1919 में भारत द्वारा बनाए गए नेविगेशन के इतिहास को याद किया गया था।


    इतिहास (History): आपको बता दें कि 5 अप्रैल 1919 को द सिंधिया स्टीम नेविगेशन कंपनी लिमिटेड (Scindia Steam Navigation Company Ltd.) का पहला जहाज, एस.एस. लॉयल्टी, भारत (मुंबई) से यूनाइटेड किंगडम (लंदन) की अंतरराष्ट्रीय यात्रा पर निकला था।

    और यह आज भी भारतीय शिपिंग इतिहास के लिए एक महत्वपूर्ण कदम माना जाता है क्योंकि उस समय समुद्री मार्गों को ब्रिटिश द्वारा नियंत्रित किया जाता था।


    क्यों मनाते है उद्देश्य: राष्ट्रीय समुद्री दिवस 2020 का उद्देश्य लोगों को भारतीय जहाजरानी (शिपिंग) के प्रति लोगों को जागरूक करना और उन्हें अर्थव्यवस्था में इसकी महत्वपूर्ण भूमिका को दर्शाना और अंकित करना है। यह मुख्य रूप से दुनिया भर में वाणिज्य और वैश्विक अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने के लिए मनाया जाता है।

    National Maritime Day of India 05 April 2020 Images in Hindi
    National Maritime Day of India 05 April 2020 Images in Hindi

    National Maritime Day 2020 India in Hindi

    • Major Ports: भारत में 13 प्रमुख बंदरगाह मौजूद हैं, जो गुजरात, महाराष्ट्र, गोवा, कर्नाटक, केरल, तमिलनाडु, आन्ध्रप्रदेश, ओडिसा, पश्चिम बंगाल, दमण और दीव, लक्षद्वीप, पोंडिचेरी, और अंडमान निकोबार द्वीप में स्थित हैं।

    • Indian Sea Shore: भारत का समुंद्री तट पूर्वी और पश्चिमी दोनों ओर 7517 किलोमीटर तक फैला हुआ हैं।

    • Maritime Zones Act 1976: भारत में 25 अगस्‍त 1976 को पारित हुए समुद्री क्षेत्र अधिनियम (Maritime Zones Act) के अनुसार भारत द्वारा 2.01 लाख वर्ग किलोमीटर समुद्री क्षेत्र का दावा किया गया है।

    • भारतीय समुद्री इतिहास: भारत का समुद्री इतिहास काफी पुराना है यह 3000 साल ईसा पूर्व के बीच शुरू हुआ माना जाता है, जब सिंधु घाटी के निवासियों ने समुद्री व्यापार शुरू किया। बताया जाता है कि सिंधु घाटी के रहने वालों ने पहली बार मेसोपोटामिया के साथ समुद्र का आदान-प्रदान शुरू किया था।

    • Merchant Navy: भारत में आधुनिक मर्चेंट नेवी का जन्म अंगेजों से स्वतंत्रता मिलने से पहले 1919 में एसएस लॉयल्टी के रूप में हुआ था, इस दौरान यह भारत से ब्रिटेन के लिए रवाना हुआ था।

    • National Maritime Day of USA: अमेरिका (USA) में 'National Maritime Day' 22 मई को मनाया जाता है तो वहीं 'यूनाइटेड स्टेट्स कांग्रेस' द्वारा इसे हॉलिडे भी घोषित किया हुआ हैं।

    • Rashtriya Samudri Diwas पांच महासागरों में व्यापार की सुविधा के माध्यम से समुद्री अर्थव्यवस्था का देश की Economy में दिए योगदान दर्शाता है।

    • आज भारत कुल DWT (लदान क्षमता) के मामले में दुनिया में 15 वें स्थान पर है। इस समय भारत लगभग 12.8% अधिकारियों और रेटिंग का लगभग 14.5% दुनिया भर के समुदाय को आपूर्ति करता है। जो किसी भी देश में सबसे अधिक है।

    यह भी पढ़ें 👉 Indian Navy Day: जानें कब क्यों और कैसे मनाया जाता है भारतीय नौसेना दिवस

    राष्ट्रीय समुद्री दिवस की थीम | National Maritime Day of India 2020 Theme

    पिछले साल राष्ट्रीय समुद्री दिवस 2019 की थीम "हिंद महासागर- अवसर का एक महासागर" (Indian Ocean: An Ocean of opportunity) थी। नेशनल मैरीटाइम डे की Theme वैश्विक अर्थव्यवस्था के लिए भारतीय समुद्री सीमा और मर्चेंट नेवी के समर्थन का प्रतीक है। जो समुद्री रास्ते से माल को दुनिया के कोने-कोने में लेकर जाते है।


    राष्ट्रीय समुद्री दिवस 2020 की थीम अभी आनी बाकी है परन्तु यह दुनिया भर में महाद्वीपों के बीच सुरक्षित और पर्यावरण के अनुकूल वाणिज्य का समर्थन करता है।


    यह भी पढ़ें 👉 [Latest Version] Armaan Army App Apk Download 2020

    अन्तिम शब्द

    Friends आज Rashtriya Samundri Diwas के अवसर पर हम देश की मर्चेंट नेवी को दिल से सलाम करते है और अगर आपको राष्ट्रीय समुद्री दिवस कब, क्यों और कैसे मनाया जाता है तथा नेशनल मैरीटाइम डे २०२० का इतिहास और थीम (National Maritime Day History and Theme in Hindi) की यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों के साथ फेसबुक और व्हाट्सऐप पर भी जरूर शेयर करें।

    NEXT ARTICLE Next Post
    PREVIOUS ARTICLE Previous Post
    -->
    NEXT ARTICLE Next Post
    PREVIOUS ARTICLE Previous Post
     

    About Writer