-->

Jammu & Kashmir (JK) and Ladakh (LA) Vehicle Registration RTO Code List

JK and LA Vehicle Registration RTO Codes List: Jammu Kashmir में Registered Vehicles के लिए 'JK' और Ladakh के लिए 'LA' Number Plates जारी किए जाएंगे। आइये इसके बारें में विस्तार से जानते है...

    जम्मू कश्मीर और लद्दाख आरटीओ कोड लिस्ट: Jammu & Kashmir (JK) and Ladakh (LA) Vehicle Registration RTO Code List

    JK & LA Number Plate: भारत सरकार ने 5 अगस्त 2019 को संविधान के अनुच्छेद 370 को रद्द कर जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे को वापस ले लिया और इसे दो केंद्र शासित प्रदेशों (जम्मूकश्मीर और लद्दाख) में विभाजित कर दिया है। अब Jammu Kashmir में Registered Vehicles के लिए 'JK' और Ladakh के लिए 'LA' Number Plates जारी किए जाएंगे।

    जम्मू-कश्मीर परिवहन विभाग पर जम्मू-कश्मीर की और लद्दाख मोटर वाहन विभाग पर Ladakh के सड़क परिवहन निगम के कामकाज को देखने की जिम्मेदारी है।


    इस लेख में हम आपके साथ जम्मू कश्मीर और लेह-लद्दाख के अंतर्गत आने वाले सभी RTO Codes बताने जा रहे है साथ ही इनकी Contact Details भी आपके साथ साझा करेंगे। RTOs राज्य की Registering Authority जो गाड़ी का लाइसेंस जारी करने, वाहनों का रजिस्ट्रेशन करने आदि का काम करती है।

    Jammu Kashmir (JK) and Ladakh (LA) RTO Codes List
    Jammu Kashmir (JK) and Ladakh (LA) RTO Codes List

    Ladakh (LA) - Vehicle Registration (RTO) Codes

    भारत के सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने 25 नवम्बर 2019 को एक अधिसूचना जारी करते हुए मोटर वाहन अधिनियम 1988 में संशोधन कर केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख के लिए नए Vehicle Registration Tag "LA" को सम्मिलित किया है।


    Vehicle RTO CodesDistrict/Region
    LA-01Leh (लेह)
    LA-02 Kargil (कारगिल)
    LA-999State Transport Authority

    Contact Details of ARTO, Leh

    Address: ARTO Office, Agling Leh,
    Phone: 9419144996.
    Email: [email protected]


    Jammu & Kashmir (JK) Rto Codes List

    जम्मूकश्मीर में कुल 22 RTOs (Regional Transport Offices) है जो राज्य में ड्राइविंग लाइसेंस और फिटनेस सर्टिफिकेट आदि जारी करने का काम करते है।


    RTO CodeRTO Name
    JK01RTO Kashmir (कश्मीर)
    JK02RTO Jammu (जम्मू)
    JK03ASST. RTO Anantnag (अनंतनाग)
    JK04ASST. RTO Budgam (बडगाम)
    JK05ASST. RTO Baramulla (बारामूला)
    JK06ASST. RTO Doda (डोडा)
    JK07ASST. RTO Kargil (कारगिल) (Now in Ladakh)
    JK08ASST. RTO Kathua (कठुआ)
    JK09ASST. RTO Kupwara (कुपवाड़ा)
    JK10ASST. RTO Leh (लेह) (Now in Ladakh)
    JK11ASST. RTO Rajouri (राजौरी)
    JK12ASST. RTO Poonch (पूंछ)
    JK13ASST. RTO Pulwama (पुलवामा)
    JK14ASST. RTO Udhampur (उधमपुर)
    JK15ARTO Bandipora (बांदीपोरा)
    JK16ARTO Ganderbal (गांदरबल)
    JK17ARTO Kishtwar (किश्तवाड़)
    JK18ARTO Kulgam (कुलगाम)
    JK19ARTO Ramban (रामबन)
    JK20ARTO Reasi (रियासी)
    JK21ARTO Samba (सांबा)
    JK22ARTO Shopian (शोपियां)
    JK999State Transport Authority

    Note: All the series starting with ‘Y’ (Example: JK XX Y XXXX) is Reserved for State Road Transport (J&KSRTC) Buses.


    Contact Details of Jammu and Kashmir (J&K) RTO

    Address: Office of the Commissioner of Transport Jammu and Kashmir
    Transportnagar, Jammu,
    Jammu and Kashmir 180004
    Phone: 0191-2479802
    Email: [email protected]
    Website: http://www.jaktrans.nic.in/


    Vehicle Registration in Jammu Kashmir and Ladakh

    केंद्र शासित प्रदेश जम्मू और कश्मीर में vehicle registration डीलर द्वारा किया जा सकता है। अधिकृत ऑटोमोबाइल डीलर गाड़ी से संबंधित सभी दस्तावेज जैसे फॉर्म नंबर 20, 21 और 22, बीमा प्रमाण पत्र, पते के प्रमाण और सीएमवीआर 1989 द्वारा निर्धारित किसी भी अन्य दस्तावेज को अपलोड करेगा।

    इसके आलावा सभी Fees/Tax जमा करना, Registration Number और HSR Plates लगाना भी डीलरों के स्तर पर किया जाएगा।


    Check Vehicle Registration Status in Jammu & Kashmir

    • First Visit https://parivahan.gov.in/parivahan//node/1978 and Select Your State from drop down.

    • Now Choose RTO and Click on proceed.

    • On Next Page Select Status from menu and Click on Know Your Application Status.

    • Now Enter Your Application Number and Captcha and Click on Submit button.

    • From Here You Can Check The Status of Your Vehicle Registration Status.

    Indian states and Union territories RTO codes:

    follow haxitrick on google news
    NEXT ARTICLE Next Post
    PREVIOUS ARTICLE Previous Post
    -->
    NEXT ARTICLE Next Post
    PREVIOUS ARTICLE Previous Post