-->

World Rose Day 2020: कब, क्यों और कैसे मनाते हैं कैंसर पीड़ित के लिए

    Advertisement

    World Rose Day 2020: कब, क्यों और कैसे मनाते हैं कैंसर पीड़ित के लिए रोज़ डे, जानिए History

    World Rose Day For Cancer Patients 2020: फरवरी में Valentines Day के दिनों में आने वाला रोज डे तो सबको याद रहता है, लेकिन आपने सितंबर में आने वाले रोज डे के बारे में शायद ही सुना होगा।

    आज यानी 22 सितंबर का दिन पूरी दुनिया में World Rose Day (विश्व गुलाब दिवस) के रूप मे Celebrate किया जाता है।

    आपको यह जानकर काफी हैरानी होगी की यह दिन कैंसर पीड़ितों के साथ मानवीय व्यवहार करने और उनका दुख बांटने के संदर्भ में हर साल 22 सितंबर को मनाया जाता है।

    World rose day for cancer patients 22 september
    World rose day 2020 for cancer patients 22 september

    World Rose Day Wikipedia in Hindi

    विश्व गुलाब दिवस के बारे में जानकारी:
    नाम: वर्ल्ड रोज डे {विश्व गुलाब दिवस} (World Rose Day)
    स्मृति: 12 वर्षीय बाल कैंसर पीड़िता मेलिन्डा रोज
    तिथि: 22 सितंबर
    उद्देश्य: कैंसर रोगियों को इससे लड़ने की प्रेरणा शक्ति एवं उन्हें खुशियां देना।
    अगली बार: 22 सितम्बर 2021

    World Rose Day कब और क्यों मनाया जाता है?

    हर साल 22 सितंबर को World Rose Day मनाया जाता है जिसका उद्देश्य कैंसर से लड़ने वाले लोगों को जीने की प्रेरणा देना तथा उनके जीवन में खुशियां लाना है। यह दिन कैंसर पेशेंट्स को गुलाब का फूल देकर उनमें इस बीमारी का सामना करने और इससे लड़ने की ऊर्जा प्रदान करने हेतु मनाया जाता है।

    गुलाब के फूल को कोमलता प्यार और चिंता का प्रतीक माना जाता है। ऐसे में कैंसर पेशेंट्स को प्यार उनके प्रति चिंता और कोमलता को जताने के लिए ही इस दिन को वर्ल्ड रोज डे के रूप में विश्वभर में मनाया जाता है।


    यह भी पढ़ें: ई-सिगरेट क्या होती है, भारत सरकार ने इसकी बिक्री पर क्यों लगाया बैन

    वर्ल्ड रोज डे का इतिहास (History)?

    विश्व गुलाब दिवस या वर्ल्ड रोज डे 12 वर्षीय बाल कैंसर पीड़िता मेलिन्डा रोज (Melinda Rose) को याद करते हुए मनाया जाता है। मेलिन्डा कनाडा की रहने वाली थी और उन्हे साल 1994 में ब्लड कैंसर (एस्किन ट्यूमर) से ग्रस्त पाया गया था।

    मेलिन्डा कैंसर की Last Stage पर थी और डॉक्टर्स ने जवाब देते हुए यह तक कह दिया था कि यह बच्ची (मेलिन्डा रोज) एक या दो सप्ताह से ज्यादा नहीं जी सकेगी।


    लेकिन मेलिन्डा की दृढ़ इच्छाशक्ति ने डॉक्टर्स को गलत साबित किया और वह एक या दो सप्ताह नहीं बल्कि पूरे 6 महीने शिद्दत से अपना जीवन जीया। मेलिंडा ने अपनी इस अवधि के दौरान कई रोगियों को कविताएं, ईमेल एवं अन्य रोगियों को पत्र लिखकर उनके जीवन को छुआ उन्हें प्रभावित किया।

    12 साल की ये बच्ची विश्वभर में Cancer Patients के लिए एक मिसाल बनी। और सितंबर के महीने में ही इस बच्ची ने दुनिया को अलविदा कह दिया और तभी से World Rose Day हर साल कैंसर पीड़ितों का हौंसला बढाने के लिए मनाया जाता है।


    यह भी पढ़ें: 10+ Benefits of Yoga in Hindi: योग का महत्व और इसका मानसिक व शारीरिक लाभ

    Cancer Patients के लिए World Rose Day

    वर्ल्ड रोज डे के दिन लोग कैंसर पीड़ितों को गुलाब का फूल देकर उनसे जिंदगी जीने की उम्मीद रखने और इस भयानक बिमारी से लड़ने की अपील करते हैं। इस दिन Cancer Patients को गुलाब देकर यह मैसेज देने की कोशिश की जाती है कि कैंसर जिंदगी का अंत नहीं, बल्कि शुरुआत है।

    आप दृढ़ संकल्प कर लें तो कैंसर से जिंदगी की जंग जीत सकते हैं। बहुत से लोग कैंसर का नाम सुनते ही इसे जिंदगी का अंत मान लेते हैं। मगर सच तो ये है कि 'हिम्मत' ही इस बीमारी को हरा सकती है।

    इस दिन कैंसर जैसी भयंकर बिमारी से कैंसर पीड़ितों के रिशतेदारों उनके परिवारजनों और सगे-संबंधी या दोस्तों को अस्पतालों में जाकर उन लोगों की परेशानियों को बांटना चाहिए उनकी हौसलाअफजाई करनी चाहिए।


    यह भी पढ़ें: World Chocolate Day 2020: विश्व चॉकलेट दिवस कब है, इसका इतिहास और फायदे

    बाल कैंसर जागरूकता माह (सितम्बर) | Events

    सितंबर महीने को बाल कैंसर जागरूकता माह (Childhood Cancer Awareness Month) के रूप में मनाया जाता है, जो कैंसर से पीड़ित बच्चों और उनके माता-पिताओं के सामने आने वाली चुनौतियों को प्रतिबंधित करने का पल है। इसकी शुरुआत 2018 में डब्ल्यूएचओ (WHO) द्वारा वैश्विक स्तर पर की गई थी।

    चाइल्डहुड कैंसर के लिए डब्ल्यूएचओ ने 2018 में वैश्विक पहल की जिसमें 2030 तक कैंसर वाले बच्चों की जीवित रहने की दर में तकरीबन 60% की वृद्धि की जा सके। और दुनिया भर के लगभग 1 मिलियन लोगों की जान बच सके।

    सितंबर 1992 में अमेरिका में शुरू हुआ बाल कैंसर जागरूकता माह एक सोने के रिबन का प्रतीक है।


    साथ ही विश्व कैंसर दिवस का अभियान ‘I Am and I Will’ का यह अंतिम वर्ष है जो इस महीने समाप्त होने जा रहा है 22 सितंबर को दुनिया भर के समर्थक इस ऑफिशियल लॉन्च का फेसबुक पर लाइव प्रसारण देख सकते हैं।

    आपको बता दें कि विश्व कैंसर दिवस हर साल 4 फरवरी को मनाया जाता है।


    यह भी पढ़ें: विश्व कैंसर दिवस 2020: जानिए कब, क्यों और कैसे मनाया जाता है वर्ल्ड कैंसर डे, जाने थीम

    Cancer से जुड़े इन दिवसों का महत्व:
    एक रिपोर्ट के मुताबिक से 19 वर्ष से कम उम्र के लोगों में लगभग 300000 सूचित कैंसर के मामले हैं, और उनकी मृत्यु दर तकरीबन 26% है साथ ही यह अनुमान भी लगाया गया है कि इसकी वास्तविक संख्या बहुत कम है।

    कई बाल कैंसर पीड़ित इलाज योग्य होने के बावजूद, हर साल 80,000 से अधिक बच्चों की मृत्यु हो जाती है। जिनमे अधिकांश low-and-middle-income वाले देशों से संबंध रखते हैं।

    आपको बता दें कि हर साल 15 फरवरी को अंतर्राष्ट्रीय बाल कैंसर दिवस (International Childhood Cancer Day) के रूप में मनाया जाता है, जिसका उद्देश्य बच्चों में होने वाले कैंसर के प्रति जागरूकता फैलाना है।


    अन्तिम शब्द

    दोस्तों World Rose Day Cancer Patients के लिए उनके मनोबल को बढ़ाने का दिन है। आपकी नजर मे भी ऐसा कोई मरीज है तो आप उसे एक गुलाब का फूल दे कर उसका मनोबल जरूत बढाए।

    और अगर आपको वर्ल्ड रोज डे कब, क्यों और कैसे मनाते हैं? की यह जानकारी अच्छी लगी तो इसे अपने Friends और Relatives के साथ भी जरूर शेयर करें।

    The End
    NEXT ARTICLE Next Post
    PREVIOUS ARTICLE Previous Post
    -->
    NEXT ARTICLE Next Post
    PREVIOUS ARTICLE Previous Post
     

    About Writer