अंतर्राष्ट्रीय अंहिसा दिवस कब और क्यों मनाया जाता है (2 OCTOBER)

    2 October 2019: International Day Of Non Violence Kab Aur Kyu Manate Hai In Hindi

    अंतर्राष्ट्रीय अंहिसा दिवस कब और क्यों मनाया जाता है | International Day of Non-Violence (2 OCTOBER)

    इंटरनेशनल डे ऑफ़ नॉन-वॉयलेंस (2 अक्टूबर 2019): 2 अक्टूबर को विश्व स्तर पर महात्मा गांधी के जन्म दिवस के दिन को अंतर्राष्ट्रीय अंहिसा दिवस में मनाया जाता है।

    भारत में इस दिन को गांधी जयंती के रूप धूम-धाम से मनाया जाता है।

    15 जून 2007 को संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा 2 अक्टूबर का दिन “अंतर्राष्ट्रीय अंहिसा दिवस” के रूप में मनाए जाने का निर्णय लिया था।

    जनवरी 2004 में नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किए जाने वाले ईरान के शिरीन इबादी ने ही सबसे पहले “अंतर्राष्ट्रीय अंहिसा दिवस” मनाने का सुझाव दिया था।

    और इस Suggestion को भारत की कांग्रेस पार्टी ने 2007 में सोनिया गांधी और देस्मोंड टूटू ने संयुक्त राष्ट्र को “अंतर्राष्ट्रीय अंहिसा दिवस” मनाने का सुझाव दिया।
    International Day Of Non Violence 2 October 2019 Kab Aur Kyu Manate Hai Hindi
    International Day Of Non Violence 2 October 2019 Kab Aur Kyu Manate Hai Hindi

    इसके बाद ही 15 जून 2007 को संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा वोटिंग होने के बाद 2 अक्टूबर को “अंतर्राष्ट्रीय अंहिसा दिवस” मनाने का प्रस्ताव को पारित किया गया।

    तभी से 2 अक्तूबर को विश्व अहिंसा दिवस मनाया जाता है और लोगों को अहिंसा का संदेश देने के लिए कहा जाता है।

    अंतर्राष्ट्रीय अंहिसा दिवस को अमेरिका, अफ्रीका, भारत, नेपाल, भूटान, अफगानिस्तान, श्रीलंका, बांग्लादेश, समेत 193 देशो में से 140 देश इस दिवस को मनाते है।

    अंतर्राष्ट्रीय अंहिसा दिवस International Day of Non-Violence (2 OCTOBER) महात्मा गांधी: अहिंसा के पुजारी MAHATMA GANDHI: WORSHIPER OF NON VIOLENCE

    महात्मा गांधी जी अहिंसा के पूजारक थे। वो हिंसा के शुरू से ही विरोधी थे। वे अहिंसा को ही अपना सबसे बड़ा हथियार मानते थे। उनकी ख्याति भारत में ही नही अपितु विश्व में फैली हुई है। देश की आजादी में उनका योगदान अस्मरणीय है, उन्होंने अपने साथियों को हमेशा अहिंसा के रास्ते पर चलकर देश को आजाद करवाने की बात कही और खुद भी उसी रस्ते पर चलते हुए देश को आजादी की ओर अग्रसर किया।

    बापू ने अनेकों आदोलनों की शुरूआत की लेकिन उन्होने किसी भी आन्दोलन में हिंसा का सहारा नही लिया।

    आप बापू के बारे मे अधिक जानकारी के लिए हमारी यह पोस्ट पढ़ सकते है।

    2 अक्टूबर को कब, क्यों और कैसे मनाई जाती है गांधी जयंती, जानिए महात्मा गाँधी से जुड़ी रोचक बातें

    “अंतर्राष्ट्रीय अंहिसा दिवस क्यों मनाया जाता है” उद्देश्य और महत्व | INTERNATIONAL NON VIOLENCE DAY

    विश्व में हो रहे अपराधों, युद्धों, बढ़ते आतंकवाद और लूट मार को देखते हुए विश्वभर में अहिंसा दिवस मनाया जाता है इसका मुख्य उद्देश्य सम्पूर्ण विश्व में शांति स्थापित करना और अहिंसा का मार्ग पर चलने का सन्देश देना है।

    विश्व को शांति और अहिंसा का मार्ग दिखाने और हिंसा ना करने का Message देने वाला यह एक ऐसा दिन है जिसके सही अर्थ को समझने के बाद आप हिंसा का मार्ग छोड़कर अहिंसा के मार्ग पर चल पडने पर मजबूर हो जाएंगे।

    अन्तिम शब्द | अंतरराष्ट्रीय अहिंसा दिवस - International Day Of Non Violence

    अब तो आप 2 अक्टूबर को अंतरराष्ट्रीय अहिंसा दिवस कब और क्यों मनाया जाता है इसके बारे में समझ ही गए होंगे। और अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी तो इसे अपने Friends के साथ भी जरूर शेयर करें।

    और हम सभी को भी “अंतर्राष्ट्रीय अंहिसा दिवस” पूरे जोश और उल्लास से मनाना चाहिये। और सभी को इस दिन के महत्व को समझाना चाहिए औए सदैव अहिंसा के मार्ग पर चलने का सन्देश देना चाहिये। ताकि विश्व मे शान्ति और अमन बरकार रहें।
    ---------यह भी पढ़े:----------
    अंतर्राष्ट्रीय अंहिसा दिवस कब और क्यों मनाया जाता है (2 OCTOBER) अंतर्राष्ट्रीय अंहिसा दिवस कब और क्यों मनाया जाता है (2 OCTOBER) Reviewed by HaxiTrick on Wednesday, October 02, 2019 Rating: 5

    International Day Of Non Violence 2 October 2019 Kab Aur Kyu Manate Hai Hindi, अंतर्राष्ट्रीय अंहिसा दिवस कब और क्यों मनाया जाता है 2 अक्टूबर

    NEXT ARTICLE Next Post
    PREVIOUS ARTICLE Previous Post
    -->
    NEXT ARTICLE Next Post
    PREVIOUS ARTICLE Previous Post