-->

Koo App Download: जानिए इस्तेमाल करने का तरीका (Indian Twitter Alternative)

    Twitter Alternative Koo App क्या है? इसका इस्तेमाल कैसे करें? (Owner & Founder)

    Koo App क्या है: Koo App भारत का एक पर्सनल अपडेट और ओपिनियन शेयरिंग प्लेटफार्म है, अगस्त 2020 में कू ऐप ने आत्मनिर्भर एप इन्नोवेशन चैलेंज को जीता था। कू ऐप को ट्विटर अल्टरनेटिव के तौर पर इस्तेमाल किया जा सकता है और इसे भारतीय ट्विटर या ट्विटर जैसा इंडियन ऐप भी कहा जा सकता है।

    माइक्रो ब्लॉगिंग वेबसाइट ट्विटर के अल्टरनेटिव कू ऐप (Koo App) को भारत सरकार और देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा आत्मनिर्भर भारत के तहत इस ऐप को लांच किया गया है। इसका मकसद देश के हिंदी समेत अन्य 100 भाषाओं में देश के सभी भारतीयों की आवाज सुनने का प्रयास करना है। यहाँ कोई भी अपनी मातृभाषा को चुनकर इंटरनेट पर अपने विचार साझा करने के लिए भाग ले सकता है।

    Indian Twitter Koo App Download
    Indian Twitter Koo App Download

    Koo App को Download और इसका इस्तेमाल कैसे करें?

    कू ऐप को एंड्रॉयड यूजर्स प्ले स्टोर से तथा आईफोन यूजर्स से एप स्टोर से डाउनलोड कर सकते हैं साथ ही इसका वेब वर्जन भी मौजूद है।



    • Koo App को एप स्टोर एप प्ले स्टोर से डाउनलोड करें।
    • ऐप ओपन करने के बाद सबसे पहले अपनी भाषा चुनें।
    • koo app Register

    • Mobile Number डालें और OTP Verify करें।
    • अब आपका अकाउंट बन गया है।
    • नाम, फोटो और अन्य डिटेल अपडेट करने के लिए प्रोफाइल पर जाएँ।

    Koo App पर पोस्ट कैसे करें?
    • Koo App ओपन करें।
    • यहाँ (+कू) आप्शन पर क्लिक करें।
    • Post An Update on koo app

    • अब अपने विचार को लिखें या फिर ऑडियो या विडियो में रिकॉर्ड कर इसे पोस्ट करें।
    • Twitter की तरह यहाँ भी हैशटैग (#) और टैग (@) करने का फीचर दिया गया है।


    इंडियन ट्विटर Koo App के फीचर्स

    कू ऐप पर यूजर टेक्स्ट, ऑडियो और वीडियो का प्रयोग करके अपने विचार और राय साझा कर सकते हैं, एक यूजर 400 वर्णों या 1 मिनट के वीडियो में अपना विचार व्यक्त कर सकता है। तथा यहां कोई लिंक, यूट्यूब वीडियो, मतदान (poll) या gif को भी साझा किया जा सकता है।

    साथ ही एप में ट्विटर की तरह चैट करने का भी विकल्प दिया गया है और ट्विटर की तरह इस पर एक दूसरे को फॉलो भी किया जा सकता है तथा ट्रेंडिंग विकल्प भी इसमें मौजूद है।

    फिलहाल कू ऐप भारत की 4 भाषाओं हिंदी, तमिल, तेलुगू और कन्नड़ में उपलब्ध है और जल्द ही इसे मलयालम, असमी, मराठी, गुजराती, बंगाली, उड़िया, पंजाबी आदि भाषाओं में भी उपलब्ध कराया जाएगा।


    Koo App को किसने बनाया यह कहां की कंपनी है। (Owner & Country)

    Koo App को मार्च 2020 में बेंगलुरु (भारत) के 2 उद्यमियों द्वारा बनाया गया, इस ऐप के फाउंडर Aprameya Radhakrishna (जिन्होंने टैक्सीफॉरस्योर की स्थापना की थी) और Mayank Bidawatka है। यह एक मेड इन इंडिया एप्प है जिसने अगस्त 2020 में भारत सरकार द्वारा आयोजित आत्मनिर्भर ऐप चैलेंज जीता था।



    क्या ट्विटर बैन हो रहा है?

    भारत में ट्विटर पर बैन लगाने की कोई आधिकारिक घोषणा जारी नहीं की गयी है। बीते दिनों सरकार ने ट्विटर से 257 यूआरएल और कुछ हैशटैग को ब्लॉक करने के लिए कहा था जो किसान आंदोलन के प्रति गलत जानकारी फैला रहे थे।

    साथ ही पाकिस्तान से जुड़े और खालिस्थान समर्थक एकाउंट्स के विषय में सरकार के नोटिस का जवाब देने में विफल होने पर देश की कई बड़ी हस्तियों, नेताओं एवं मंत्रियों ने भी कू ऐप का इस्तेमाल करना शुरू कर दिया।

    कई मंत्रियों ने ट्वीट कर इसकी जानकारी साझा की जिसके बाद देश के कई लोग इस पर शिफ्ट हो गए हैं। और देखते ही देखते गूगल प्ले स्टोर पर Koo App के 1 मिलियन से अधिक डाउनलोड्स पूरे हो गए और इसे 4.7 की रेटिंग भी मिल गयी।

    NEXT ARTICLE Next Post
    PREVIOUS ARTICLE Previous Post
    -->
    NEXT ARTICLE Next Post
    PREVIOUS ARTICLE Previous Post